महापौर ने स्वच्छ भारत अभियान में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए किया सम्मानित

नई दिल्ली। उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने आज स्वच्छ भारत मिशन के तहत शहर को स्वच्छ बनाने के लिए विभिन्न श्रेणियों में व्यक्तियों अथवा संस्थानों द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों के लिए पुरस्कार वितरित किए। इस कार्यक्रम का आयोजन केदार नाथ सहनी सभागार डॉ. एसपीएम सिविक सेंटर में किया गया था।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उत्तरी दिल्ली के महापौर अवतार सिंह उपस्थित थे। इस के साथ ही उप महापौर योगेश वर्मा, स्थायी समिति के अध्यक्ष जय प्रकाश, स्थायी समिति के उपाध्यक्ष विपिन मल्होत्रा, आयुक्त सुश्री वर्षा जोशी, अति. आयुक्त संदीप जैक्स, जोनों के उपायुक्त और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। समारोह की अध्यक्षता पर्यावरण प्रबंधन समिति के अध्यक्ष राजा इकबाल सिंह ने की। इसके अलावा जनप्रतिनिधि, आरडब्ल्यू, सदस्यों, मार्केट एसोसिएशन पदाधिकारी भी कार्यक्रम के दौरान उपस्थित थे।
कार्यक्रम की शुरुआत स्वच्छता पर केंद्रित नुक्कड़ नाटक के प्रदर्शन के साथ हुई।
अवतार सिंह ने कहा कि यह हमारे लिए एक सम्मान की बात है कि आज हम दिल्ली को स्वच्छ बनाने में सक्रिय रूप से भाग लेने वाले नागरिकों को सम्मानित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए नागरिकों का सहयोग आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हमारे सफाई कर्मचारी निगम की रीढ़ की हड्डी हैं, ये रोज़ सुबह जल्दी आपना कार्य शुरू कर देते है ताकि जब हम घर से निकले तो हमे हमारी सड़के व गलिया साफ. सुथरी मिले। उन्होंने कहा कि कोई भी कार्य असंभव नहीं है यदी हम ठान ले तो हम कोई भी लक्ष्य प्राप्त कर सकते है, हम नागरिकों के सहयोग से स्वच्छ सर्वेक्षण में पहला स्थान भी हासिल कर सकते हैं।
जय प्रकाश ने कहा कि जैसे खाना, नहाना जीवन का अनिवार्य हिस्सा है उसी तरह स्वच्छता भी जीवन का एक हिस्सा है। उन्होंने कहा कि छोटे बदलावों से हम बड़े मील के पत्थर हासिल कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम को खुले में शौच मुक्त प्रमाण पत्र मिला है, यह शहर को स्वच्छ बनाने की दिशा में हमारे प्रयासों को दर्शाता है।
सुश्री जोशी ने बताया कि स्वच्छता निरंतर चलने वाला कार्य है, इसलिए सार्वजनिक सहयोग और भागीदारी की आवश्यक्ता है। उन्होंने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने उन लोगों एंव संस्थानों को पुरस्कृत किया है जिन्होंने स्वच्छता के स्तर को बेहतर बनाए रखने में योगदान दिया है। आयुक्त सुश्री जोशी ने बताया कि स्वच्छता के स्तर को बनाए रखने के लिए सार्वजनिक भागीदारी जरूरी है। आयुक्त ने नागरिकों से स्वच्छता के स्तर को बेहतर करने के लिए व्यक्तिगत एंव संस्था को आगे आने की अपील की। उत्तरी दिल्ली नगर निगम नवीनतम प्रौद्योगिकी एंव संसाधनों की सहायता से सभी लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सभी प्रयास कर रही है, फिर भी सार्वजनिक सहयोग अत्यधिक वांछित है। उन्होंने बताया कि भविष्य में भी इस तरह के कार्यक्रम उत्तरी दिल्ली निगर निगम द्वारा आयोजित किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »