सुभाष चोपड़ा ने दिल्ली सरकार की नाकामियों का कच्चा चिट्ठा जारी किया

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री सुभाष चापेड़ा ने केजरीवाल सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था न केवल पूरी तरह चरमरा गई है बल्कि आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने इसे ध्वस्त कर दिया है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ने परिवहन क्षेत्र के बजट को 7.5 प्रतिशत कम कर दिया है जबकि कांग्रेस शासन में यह बजट 4300 करोड़ रुपये का था। श्री चोपड़ा आज मुख्य प्रवक्ता एवं वरिष्ठ नेता श्री मुकेश शर्मा के साथ प्रदेश कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्म्ेलन में दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को लेकर आंकड़ों के साथ उसका ‘‘कच्चा चिट्ठा’’ जारी कर रहे थे। इस मौके पर पूर्व विधायक नसीब सिंह भी मौजूद थे।
श्री चोपड़ा ने आक्रामक अंदाज में कहा कि केजरीवाल सरकार की दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को ध्वस्त करने के कारण आज दिल्ली में वाहनां से फैल रहे प्रदूषण में तेजी से बढ़ौतरी हुई है। उन्होंने कहा कि 46 प्रतिशत प्रदूषण केवल गाड़ियां से होता है। उन्होंने आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस शासन में 6200 बसों का बेड़ा सड़कों पर था जो आज घटकर 3800 रह गई है। जिसके चलते डीटीसी की बसें जो कांग्रेस शासन में 9.68लाख किलोमीटर प्रतिदिन का सफर तय करती थी जो आज 6.32 लाख कि0मी0 प्रतिदिन तक पर आ गया है। उन्होंने कहा कि आज बसों में सफर करने वालां की संख्या 45 लाख से घटकर 26 लाख रह गई क्योंकि बसें ही उपलब्ध नही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन मे 15 नए बस डिपों व 3 अन्तर्राज्यीय बस टर्मिनल बनाए गए थे। आप सरकार ने एक का भी निर्माण नही किया।
श्री चोपड़ा ने आप सरकार पर हमला जारी रखते हुए कहा कि मेट्रो के तीसरे चरण का निर्माण कार्य 3 साल देरी से हो रहा है वहीं दूसरी ओर चौथे चरण के काम में 5 साल की देरी होना इस सरकार की प्रशासनिक क्षमता व नियत पर सवाल खड़े करता है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस शासन में 10 साल में एक बार मेट्रो किराए बढाए गए थे जबकि केन्द्र व दिल्ली सरकार की सहमति से एक साल में दो बार मेट्रो के किराए बढाए गए। जिससे साबित होता है कि इस सरकार का आम जनता से कोई लेना देना नही है। उन्होंने कहा कि आज दिल्ली में 42 लाख लोग मेट्रो में सफर करते है जो कांग्रेस सरकार की देन है। उन्होंने कहा कि यदि मेट्रो नही चली होती तो दिल्ली की सड़कों पर आदमी पैदल भी नही चल सकता था।
मुकेश शर्मा ने कहा कि कांग्रेस शासन में 5271 किलोमीटर नई सड़कों का निर्माण किया गया था जबकि आप पार्टी की सरकार ने सड़कों के नेटवर्क को बढ़ाना तो अलग बात है उनका रख-रखाव तक नही किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में 67 नए फलाई ओवर बनाए गए थे जबकि आप सरकार ने एक भी नया फलाई ओवर नही बनाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में 67 नए फुटओवर ब्रिज व 29 नए सब-वे बनाने के अलावा 4 नए एलिवेटेड रोड़ों का निर्माण भी किया था। उस अनुपात में आप सरकार इस क्षेत्र में कोई काम नही कर पाई है।
श्री शर्मा ने यह भी कहा कि दिल्ली देहात व पुनर्वास कालोनियों जहां गरीब लोग रहते है। 152 बस रुटों को ही समाप्त कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि द्वारका में जमीन उपलब्घ होने के बाद भी अन्तर्राज्यीय बस टर्मिनल का निर्माण नही किया। जिसके चलते आज दिल्ली में लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। उन्हांने यह भी कहा कांग्रेस शासन में 15 नए बस टर्मिनल बनाए गए थे।
श्री चोपड़ा ने पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि डीटीसी की बसों में महिलाओं को निशुल्क यात्रा का स्वागत करते है। उन्होंने घोषणा कि कांग्रेस अपने चुनाव घोषणा पत्र में डीटीसी बस यात्रियों, बेरोजगारों मंहगाई, व अन्य जनहित मामालों में समाधान के साथ सभी मुद्दों को समाहित करेगी, जिस योजना का खुलासा घोषणा पत्र में ही किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »