गणतंत्र दिवस 2020 से जुड़े पुरस्कार प्रदान किए

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली कैंट के राष्ट्रीय रंगशाला शिविर में गणतंत्र दिवस 2020 से जुड़े पुरस्कार प्रदान किए। असम को 26 जनवरी 2020 की राजपथ पर आयोजित गणतंत्र दिवस परेड में 16 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों की झांकियों में असम की झांकी को सर्वश्रेष्ठ झांकी घोषित किया गया। असम की झांकी ‘विशिष्ट शिल्पकारी और संस्कृति की भूमिÓ विषय पर आधारित थी।
ओडिशा तथा उत्तर प्रदेश की झांकियों को संयुक्त रूप से दूसरा स्थान प्राप्ति हुआ। ओडिशा की झांकी में भगवान लिंगराज की प्रसिद्ध रूकुना रथयात्रा को दिखाया गया था। भगवान लिंगराज की पूजा भुवनेश्वर में छठी शताब्दी में निर्मित लिंगराज मंदिर में भगवान शिव और भगवान विष्णु दोनों के रूप में की जाती है।
उत्तर प्रदेश की झांकी में ‘सर्व धर्म समभावÓ विषय पर राज्यम के सांस्कृतिक और धार्मिक पर्यटन को प्रदर्शित किया गया।
विभिन्न मंत्रालयों / विभागों की छह झांकियों में जल शक्ति मंत्रालय तथा राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की झांकी को संयुक्ता रूप से सर्वश्रेष्ठ झांकी का पुरस्कार मिला। जल शक्ति मंत्रालय की झांकी में सरकार के नए कार्यक्रम जल जीवन मिशन को दिखाया गया। जल जीवन मिशन का उद्देश्य वर्ष 2024 तक प्रत्येक ग्रामीण परिवार को नियमित आधार पर, निर्धारित गुणवत्ता का तथा पर्याप्त मात्रा में पीने योग्य जल यानी हर घर जल उपलब्ध कराना है।
‘आपदा सेवा सदैवÓ के अपने नारे के अनुरूप एनडीआरएफ की झांकी में प्राकृतिक और मानवीय आपदाओं में एनडीआरएफ की सफल और शानदार मानवीय सेवा को दिखाया गया था।
‘कश्मीर से कन्या कुमारीÓ विषय पर केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग की झांकी को रंगारंग और सुगंधित फूलों से देश के विभिन्नी भागों को सजाकर दिखाने के लिए विशेष पुरस्काकर दिया गया।
रक्षा मंत्री ने सर्वोदय कन्या विद्यालय, बी ब्लॉक, जनकपुरी, नई दिल्ली के बच्चों के प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठर सांस्कृतिक प्रदर्शन पुरस्कोर दिया। बच्चों ने ‘म्हारो रंगरंगीलों राजस्था नÓ विषय पर रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुंत किया। पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र, उदयपुर के बच्चों को गुजरात के लोकनृत्य गरबा की प्रस्तुति के लिए सांत्वना पुरस्कार दिया गया।
रक्षा मंत्री ने 1 से 15 जनवरी 2020 के बीच रू4त्रश1.द्बठ्ठ के सहयोग से रक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित ऑनलाइन क्विज प्रतियोगिता ‘नो योर फोर्सेजÓ के विजेताओं को नकद पुरस्कार दिए। इस क्विज का आयोजन लोगों विशेषकर युवाओं में देश भक्ति की भावना विकसित करने के लिए किया गया। कार्तिक भल्ला ने पहला पुरस्कार और 25,000 रुपये का नकद पुरस्कार प्राप्तक किया। 15,000 रुपये के नकद पुरस्कार और के साथ समूल क्रांतिकुमार रेड्डी को दूसरा पुरस्कार प्राप्त हुआ जबकि 10,000 रुपये के नकद पुरस्कामर के साथ तीसरा पुरस्कार पायल यादव को दिया गया।
इस अवसर पर रक्षा राज्यत मंत्री श्रीपद नाईक, रक्षा तथा अन्यु मंत्रालयों अथवा विभागों के वरिष्ठ अधिकारी तथा कलाकार और बच्चे उपस्थित थे। रक्षा मंत्री ने सहभागियों के साथ बातचीत की और परेड में उनके प्रदर्शन के लिए बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »