अरविंद केजरीवाल और हर्षवर्धन ने संयुक्त बैठक कर कोराना वायरस के प्रसार को रोकने की तैयारियों की समीक्षा की

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्ष वर्धन ने दिल्ली में आए कोरोना वायरस के चार मामलों के मद्देनजर संयुक्त बैठक की। बैठक में दिल्ली के माननीय एलजी, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।
बैठक पर मीडिया को जानकारी देते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार दोनों ही इस मुद्दे पर काफी सामंजस्य स्थापित करके काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि बैठक में दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के सभी मंत्री और अधिकारी मौजूद थे। हम सीओवीआईडी-19 पर बैठक बुलाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को धन्यवाद देना चाहते हैं। बैठक में माननीय एलजी अनिल बैजल, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, सभी मेयर और दिल्ली सरकार के अधिकारी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बैठक में कोरोना वायरस पर अभी तक जो प्रगति है और उसके रोकथाम के लिए उठाए गए कदमों की समीक्षा की गई और आगे क्या कदम उठाने की जरूरत है, उस पर चर्चा की गई। अभी तक हम लोग इस बीमारी को ज्यादा फैलने से रोकने में सफल रहे हैं, क्योंकि केंद्र और राज्य सरकार आपस में सामंजस्य स्थापित करके काम कर रही हैं। इसे लेकर आम जनता भी काफी सतर्क है और हमारे साथ काफी हद तक सहयोग कर रही है।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारा मकसद यह है कि आने वाले समय में इसे पूरी तरह से फैलने से रोका जाए। हमने यह पाया है कि जो लोग बाहर से यात्रा कर के आए हैं, वहीं लोग इस बीमारी की गिरफ्त में आए हैं। उनके अलावा अन्य लोग इसकी चपेट में ज्यादा नहीं आए हैं। इसका कारण यह है कि बाहर से आने वाले लोगों के संपर्क में जितने भी लोग आए हैं, उन सभी लोगों को चिंहित करके जांच की जा रही है और उन पर निगरानी रखी जा रहा है। दिल्ली सरकार कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करने के लिए बड़े स्तर पर लाउड स्पीकर से सभी क्षेत्रों में मुनादी भी कराएगी। इसके अलावा लोगों में पम्पलेट्स भी बांटेंगे और इस पर दोनों सरकारें मिल कर काम करेंगी।
मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बाहर से एयरपोर्ट पर जितने भी लोग आ रहे हैं, उनकी पहली स्क्रीनिंग एयरपोर्ट पर ही कर दी जा रही है। इसके अलावा बाहर से आए दिल्ली के रहने वाले लोगों को हम 14 दिन तक निगरानी में रख रहे हैं। इस दौरान जिनमें भी कोरोना के लक्षण दिखाई देते हैं, उनकी जांच कराते हैं। मुख्यमंत्री ने मास्क और सेनेटाइजर को लेकर मची अफरा-तफरी पर कहा कि जो भी स्वस्थ्य लोग हैं, उन्हें मास्क पहनने की जरूरत नहीं है। सभी लोग से अपील है कि मास्क को लेकर अफरा-तफरी न मचाएं। जो लोग प्रभावित हैं या जो लोग ऐसे लोगों के संपर्क में आए हैं, उन्हें ही मास्क पहनने की जरूरत है। सेनेटाइजर के अलावा साबुन से हाथ धो लेना भी पर्याप्त है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को होली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि मैं दिल्ली में हुए दंगे और कोरोना वायरस के चलते इस बार होली नहीं खेलूंगा। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की कि होली के दौरान ज्यादा भीड़ वाले स्थान पर जाने से बचें। मेट्रो, बसों और अस्पतालों को रोजाना कीटाणुरहित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »