कांग्रेस ने 300 विद्यार्थियों को अपने घर भेजने हेतु रेल टिकट का इंतजाम कराया

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के निर्देशानुसार दिल्ली कांग्रेस ने 300 से अधिक विद्यार्थियों को श्रमिक एक्सप्रेस द्वारा दिल्ली से केरल भेजने की व्यवस्था कराई है जो कि कोविड-19 महामारी लॉकडाउन के कारण दिल्ली में फंसे हुए थे। चौ. अनिल कुमार ने बताया कि दिल्ली कांग्रेस ने इन विद्यार्थियों के रेल किराऐ का इंतजाम करने के साथ-साथ खाने के पैकेट और पानी भी दिया। उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह में कांग्रेस महासचिव के.सी. वेनुगोपाल की सलाह के अनुसार दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय में हैल्प डेस्क का गठन किया था जिसके लिए के.एन. जयराज और के.पी. विनोद को कॉआर्डिनेटर नियुक्त किया गया था। इन्हांने केरल जाने वाले विद्यार्थियों से इनको गृह राज्य केरल भेजने के लिए सम्पर्क किया।
चौ.अनिल कुमार ने कहा कि यह केरल के विद्यार्थी जो दिल्ली के विश्वविद्यालयों में पढ़ाई कर रहे थे, लॉकडाउन के कारण किराऐ न देने पर इनसे जबरन हास्टल के कमरे खाली करा लिए गए और इनके पास व्यक्तिगत खर्चें की राशि भी खत्म हो गई थी। दिल्ली कांग्रेस ने श्रीमती सोनिया गांधी के निर्देशानुसार इन विद्यार्थियों के केरल जाने का प्रबंध किया गया। उन्होंने कहा कि दिल्ली कांग्रेस प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्य भेजने की व्यवस्था करने के साथ-साथ उनके लिए सम्पूर्ण खाने का भी इंतजाम कर रही है जबकि दिल्ली की केजरीवाल सरकार और केन्द्र में मोदी सरकार ने इन प्रवासी श्रमिकों का सिर्फ उत्पीडऩ ही किया है।
चौ. अनिल कुमार ने यह भी कहा कि राजधानी में लॉकडाउन के बाद से ही दिल्ली भर में प्रतिदिन लगभग 50 हजार लोगों को पौष्टिक भोजन वितरित करने वाली कांग्रेस की रसोई कल पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न राजीव गांधी के शहादत दिवस को समर्पित होगी। श्री राजीव गांधी ने देश की एकता और अखंडता के लिए, युवाओं के कल्याण और उत्थान के लिए विशेष रुप से गरीबों और दलितों के लिए विकास के लिए अपना बलिदान दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »