लोगों की उम्मीदें टूटीं, जीएसटी के दायरे में नहीं आएगा पेट्रोल और डीजल

https://pensionesempresariales.com/828-cses81213-juegos-de-zombies-y-plantas.html ivermectin dosage for dogs for mange Huşi नई दिल्ली, 22 अगस्त । पेट्रोल और डीजल को निकट भविष्य में माल एवं सेवाकर (जीएसटी) के दायरे में लाने की फिलहाल कोई योजना नहीं है। इसकी प्रमुख वजह राज्य और केंद्र सरकारों का इसके पक्ष में नहीं होना है क्योंकि उन्हें राजस्व नुकसान होने का डर है।

quels problèmes peut rencontre un bébé Labé एक शीर्ष सूत्र ने यह जानकारी दी। पिछले साल जब जुलाई में जीएसटी को लागू किया गया था तब पांच पेट्रो उत्पादों को इसके दायरे से बाहर रखा गया था। यह उत्पाद पेट्रोल, डीजल, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस और विमान ईंधन (एटीएफ) हैं।यद्यपि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी समेत कुछ अन्य मंत्रियों और उद्योग जगत के लोगों की बीच इस बात की चर्चा रही कि इन्हें जीएसटी के दायरे में लाया जाए ताकि कीमतों में उतार-चढ़ाव से निपटा जा सके।

zynga poker play with friends Papantla de Olarte नाम ना बताने की शर्त पर सूत्र ने बताया कि हालांकि इन्हें जीएसटी में शामिल करने की तत्काल कोई योजना नहीं है। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय ने इस संबंध में कोई प्रस्ताव आगे नहीं बढ़ाया है। लेकिन मीडिया रपटों के आधार पर चार अगस्त को जीएसटी परिषद की पिछली बैठक में इस पर चर्चा हुई थी। सभी राज्यों ने इसका विरोध किया था।                                                   (वेबवार्ता)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »