एलएनजेपी अस्पताल स्वास्थ्य कर्मचारी यूनियन का असहयोग आंदोलन खत्म

नई दिल्ली। दिल्ली राज्य कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी) स्वास्थ्य कर्मचारी यूनियन 717 (रजि.) ने एलएनजेपी अस्पताल में सुबह 8 बजे से 11 बजे तक असहयोग आंदोलन को सफलतापूर्वक समाप्त कर दिया। स्वास्थ्य कर्मचारियों ने आपातकालीन सेवाओं को इससे बाहर रखा था। तीन दिन तक स्वास्थ्य कर्मचारियों की मांगों को लेकर चलाये गए इस असहयोग आंदोलन में अस्पताल यूनियन के प्रधान सुभाष,महासचिव बलवंत सिंह रावत,कोषाध्यक्ष विद्या देवी के नेतृत्त्व में यूनियन की मांगों का ज्ञापन पत्र अस्पताल प्रशासन को सौंपा। अपने आंदोलन के समाप्ति के मौके पर उपस्थित स्वास्थ्य कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए अस्पताल यूनियन के प्रधान सुभाष ने कहा कि हमारा संघर्ष आगे भी जारी रहेगा जिसकी रुपरेखा हम सभी दिल्ली राज्य कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति आगामी बैठक में तय करेंगे। उन्होंने सभी कर्मचारियों के प्रति एकजुटता ओर अपनी मांगों के समर्थन में किये संघर्ष के लिए आभार प्रकट किया। इस मौके पर अस्पताल यूनियन के महासचिव बलवंत सिंह रावत ने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारे अस्पताल में कार्यरत सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों को सम्मान के साथ अपना कर्तव्य और निष्ठा से उनके सभी अधिकार दिलाना है। जिसमें कोऑपरेटिव सोसाईटी के समकक्ष लोकनायक अस्पताल कर्मचारी कल्याण समिति का गठन,कर्मचारी की सेवा के दौरान अकस्मात मृत्यु पर तत्काल सहायता राशि,दो वर्षों से बंद कर्मचारी सहायता डेस्क का पुनः संचालन,एम आर डी से होने वाले जी.पी.एफ निकासी,एल.टी. सी एडवांस,एम.ए.सी.पी कार्यों को समयाविधि के अंतर्गत लाना,पेंशन अथवा मृत्यु होने पर जल्द सहायता के लिए अगल ब्रांच खुलवाना,केंद्रीयकृत सेवानिवृति समारोह और बेनिफिट देना,अस्पताल में अनुबंध आधार पर होने वाली कर्मचारी चयन में लोकनायक कर्मचारी के आश्रितों और योग्य बच्चों को प्राथमिकता देना,ग्रुप हाऊसिंग सोसाईटी के माध्यम से कर्मचारियों के आवास की व्यवस्था,गोविन्द वल्लभ पंत अस्पताल में लोकनायक के कर्मचारियों के अलग स्टाफ डेस्क की व्यवस्था आदि अनेक ऐसे काम अभी कराने है किन्तु सरकार और अस्पताल प्रशासन सहयोग नहीं कर रहा है। हम उम्मीद करते हैं हमारे इस असहयोग आंदोलन से अस्पताल प्रशासन की नींद खुलेगी और वह हमारी मांगे पूरी करेगा। उन्होंने अस्पताल के सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों को इस आंदोलन में हिस्सा लेने के लिए आभार प्रकट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »