डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की 89 वीं जयंती पर विचार गोष्ठी आयोजित

नई दिल्ली। भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की 89 जन्म जयंती पर और महाप्राण कवि सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला जी की पुन्य तिथि पर श्री गोवर्धन विद्या निकेतन विद्यालय में एक शानदार काव्य गोष्ठी का आयोजन क्षेत्र की निगम पार्षदा कुसुम तोमर जी की अध्यक्षता में किया गया जिसका मंच संचालन ओम प्रकाश प्रजापति ने अपने लाजबाब अंदाज में किया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथियों में के डी पाठक वरिष्ठ संवाददाता मेट्रो रिपोर्टर समाचार पत्र के संपादक जेके मिश्रा, कवि साहित्यकार निर्देश शर्मा एवं एकवि चित्रकार लेखक सजंय कुमार गिरि रहे। इस अवसर पर डॉ कलाम साहब की प्रतिमा के समक्ष सभी गणमान्य अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया। विद्यालय के प्रबन्धक विष्णु दत्त शर्मा ने अपने वक्तव्य में कहा की देश के नव युवाओं को डॉ. कलाम के पद चिन्हों पर चलते हुए उनके बनाये आदर्शों का पालन करना चाहिए भविष्य में ये युवा ही आगे चल कर स्वामी विवेकानन्द एवं कलाम जैसे व्यक्तित्व बन सकते हैं । निगम पार्षदा ने कहा कि मेरा बचपन भी लगभग कलाम साहब जैसा ही अभाव में बीता किताब तक खरीदने के पैसे नहीं होते थे, उन्होंने कहा कि उन्होंने अब्दुल कलाम को खूब पड़ा है और उनसे बहुत प्राभावित रहीं उनकी एक बात याद करते हुए कहा कि जिस दिन हमारे सिग्नेचर ऑटोग्राफ  में बदल जाएं तो मान लीजिये आप कामयाब हो गए ।

इस सुअवसर पर कवि साहित्यकार निर्देश शर्मा एवं कवि चित्रकार लेखक संजय कुमार गिरि ने शानदार काव्य पाठ किया एवं जोशीला टाइम्स के सम्पादक योगेश कौशिक विद्यालय की प्राधानाचार्य श्रीमती संगीता शर्मा, महिला शक्ति मण्डल उपाध्यक्ष पूनम गुप्ता, मण्डल मंत्री ललिता, अनुपमा, अलका जैन, मोनिका शर्मा, आर.डब्लू.ए. के अध्यक्ष डॉ.अग्रवाल, किसान मोर्चा मण्डल अध्यक्ष रवि कूपर भी उपस्थित रहे। सभी उपस्थित गणमान्य अतिथियों ने अपने अपने विचार रखे एवं श्रदांजली दी कार्यक्रम के अंत में गोवर्धन विद्या निकेतन के प्रबन्धक विष्णु दत्त शर्मा ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »