मुख्यमंत्री ने स्व. डॉ. हितेश गुप्ता के परिवार को एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक सौंपा

Çine singles in berlin kennenlernen नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आईपी एक्सटेंशन निवासी कोरोना योद्धा स्वर्गीय डॉ. हितेश गुप्ता के परिवार से मुलाकात की और उन्हें दिल्ली सरकार की तरफ से सहायता राशि के तौर पर एक करोड़ रुपए का चेक सौंपा। सीएम ने कहा कि डॉ. हितेश गुप्ता के निधन का हमें बहुत दुख है। हम उनके परिवार के साथ हैं और उनकी पत्नी को दिल्ली सरकार में नौकरी भी देंगे।
कोरोना योद्धा स्वर्गीय डॉ. हितेश गुप्ता के परिवार को सहायता राशि का चेक सौंपने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि डॉ. हितेश गुप्ता दिल्ली सरकार में एक डॉक्टर के तौर पर काम कर रहे थे और कोरोना काल के दौरान कोरोना मरीजों की सेवा कर रहे थे। कोरोना के मरीजों के लिए काम करते हुए उन्हें भी कोरोना हो गया और इलाज के दौरान अस्पताल में उनका निधन हो गया। डॉ. हितेश गुप्ता के निधन का हमें बहुत ही दुख और अफसोस है। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि जितने भी कोरोना योद्धा हैं, उन लोगों को हौसला देने के लिए और उनकी मदद करने के लिए दिल्ली सरकार ने एक अनूठी योजना का ऐलान किया है। योजना के अनुसार, अगर हमारे किसी कोरोना योद्धा को काम करने के दौरान कोरोना हो जाता है और उसकी वजह से वे शहीद हो जाते हैं, तो हम उनके परिवार को एक करोड़ रुपए की सहायता राशि देकर मदद करेंगे। उसी योजना के तहत, आज मैं डॉ. हितेश गुप्ता के परिवार से मिलने आया था और हमने परिवार से मिल कर यह सहयोग राशि का चेक सौंपा है।
सीएम ने कहा कि वैसे तो किसी की भी जान की कीमत नहीं होती है, लेकिन मैं उम्मीद करता हूं कि इस सहयोग राशि से डॉ. हितेश गुप्ता के परिवार को मदद मिलेगी। डॉ. हितेश गुप्ता की पत्नी काफी शिक्षित हैं। हम उनकी पत्नी को दिल्ली सरकार में नौकरी भी देंगे। उसके बाद भी उनकी जो जरूरतें होंगी, हम लोग उन जरूरतों को पूरी करने की कोशिश करेंगे।
इस दौरान कोरोना योद्धा डॉ. हितेश गुप्ता की पत्नी सुरभि गुप्ता ने कहा कि मेरे पति की कोविड के दौरान कोरोना के संक्रमण से मौत हो गई थी, वह एक कोरोना योद्धा थे। मैं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का बहुत आभारी हूं। इस दुख की घड़ी में मुख्यमंत्री जी ने हमारी हर स्तर पर मदद की और उन्होंने आगे भी मदद करने का वादा किया है। मैं इसके लिए मुख्यमंत्री जी का शुक्रिया करती हूं।
उल्लेखनीय है कि आईपी एक्सटेंशन निवासी डॉ. हितेश गुप्ता कड़कडड़ुमा डिस्पेंसरी में तैनात थे। कोरोना मरीजों की सेवा करने के दौरान वे भी इसकी चपेट में आ गए और उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां 3 नवंबर 2020 को उनका निधन हो गया। उनके परिवार में पत्नी सुरभि गुप्ता, एक आठ साल की बेटी और वृद्ध सास हैं।

Leave a Reply

http://halemediallc.com/4622-cs45136-jackpot-city-online-pokies.html Your email address will not be published. Required fields are marked *

ivermectin cream uk boots Belsand

royalwin555 Gua Musang

Translate »