पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के दामों में बेहताशा वृद्धि के लिए केन्द्र सरकार जिम्मेदार : माकन

Laudio / Llodio 21-men casino battle royale नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस की कीमतों तथा बढ़ती मंहगाई को लेकर बुलाए गए भारत बंद के अवसर पर दिल्ली में पेट्रोल पम्प, नजदीक सिद्धार्थ होटल पूसा रोड़ पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि केन्द्र की भाजपा व दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने पेट्रोल व डीजल पर एक्साईज ड्यूटी व वेट इतनी बढ़ा दी है कि दोनो लोगों की पहुंच से बाहर हो गए हैं।
पेट्रोल व डीजल के दामों में बेहताशा बढ़ौत्तरी के खिलाफ भारत बंद के आह्वान पर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन के नेतृत्व में पूरी दिल्ली के 280 ब्लाकों के अन्तर्गत आने वाले पेट्रोल पम्पों पर विरोध प्रदर्शन किया। जिसमें न सिर्फ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया बल्कि आम जनता ने भी भाजपा की केन्द्र सरकार व आप पार्टी की दिल्ली सरकार के खिलाफ इस मुहिम का मुखर होकर समर्थन किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दुकानदारों से शांति पूर्ण तरीके से बंद के लिए समर्थन किया, जिसका व्यापारी वर्ग, दुकानदार व आम जनता ने समर्थन किया।
श्री माकन ने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय में पेट्रोल पर मई 2014 में एक्साईज ड्यूटी 9.20 रुपये प्रति लीटर थी जबकि आज मोदी सरकार ने इसको बढ़ाकर 19.48 रुपये प्रति लीटर कर दिया है। अर्थात पेट्रोल पर एक्साईज की 211.7 प्रतिशत की वृद्धि कर डाली। श्री माकन ने कहा कि इसी प्रकार मई 2014 में जहां डीजल पर एक्साईज ड्यूटी 3.46 रुपये प्रति लीटर थी वह मोदी सरकार ने बढ़ाकर 15.33 रुपये प्रति लीटर कर दी है, अर्थात डीजल पर एक्साईज ड्यूटी में 443.06 प्रतिशत की वृद्धि कर दी है। श्री माकन ने कहा कि पेट्रोल व डीजल पर भारी टैक्स लगाए जाने के कारण रसोई गैस के दाम भी लगभग दोगुने हो गए है। उन्होंने कहा कि जो रसोई गैस कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय में 400 रुपये प्रति सिलेंडर मिलती थी वह प्रति सिलेंडर 754 रुपये हो गई है।
श्री माकन ने कहा कि मोदी सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में पेट्रोल व डीजल पर बेहताशा टैक्स लगाकर 11 लाख करोड़ रुपया कमाया है। जबकि लोगों पर मंहगाई का बोझ बढ़ता जा रहा है। क्योंकि उन्होंने केन्द्रीय एक्साईज ड्यूटी में ही अपने कार्यकाल में 12 बार वृद्धि की है। श्री माकन ने कहा कि मोदी की केन्द्र सरकार व आप पार्टी की दिल्ली सरकार के समय में मंहगाई आज आसमान छू रही है और न सिर्फ गरीब बल्कि मध्यम वर्ग को भी दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। जबकि दोनो सरकारों ने मंहगाई कम करने का वायदा किया था।
श्री माकन ने पेट्रोल व डीजल के दामों में बेहताशा वृद्धि के लिए जहां मोदी की केन्द्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है वहीं आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार को भी पेट्रोल व डीजल के दामों में बढ़ौत्तरी के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि दिल्ली में कांग्रेस की सरकार के समय जहां डीजल पर वेट की दर 12.5 प्रतिशत थी वह बढ़ाकर 17 प्रतिशत कर दी और इसी प्रकार कांग्रेस के समय में जहां पेट्रोल पर वेट की दरें 20 प्रतिशत थी, वे बढ़ाकर 27 प्रतिशत कर दी।
श्री माकन ने कहा कि यदि मोदी की केन्द्र सरकार और केजरीवाल की दिल्ली सरकार पेट्रोल व डीजल पर बढ़ी हुई एक्साईज व वेट की दरें तुरंत प्रभाव से कम कर देए तो दिल्ली में पेट्रोल व डीजल की कीमते 45 रुपये से उपर नहीं होंगी।
प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन के साथ पूर्व सांसद सज्जन कुमार और महाबल मिश्रा, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री किरण वालिया और रमाकांत गोस्वामी, वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक मुकेश शर्मा, विपिन शर्मा, तरविन्दर सिंह मारवाह, भीष्म शर्मा, नीरज बसौया, विजय लोचव, अनिल भारद्वाज, अरविन्दर सिंह लवली, चत्तर सिंह, जिला अध्यक्ष मदन खोरवाल, सुशीला खोरवाल, एडवोकेट सुनील कुमार, जगप्रवेश कुमार, ब्रहम यादव, महमूद जिया, अनिल कुकरेजा, नरेश शर्मा नीटू शामिल थे।

Leave a Reply

https://klassjoggen.se/682-dse67030-vårsta-speed-dating.html Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pinhais 777 casino login uk

Haltern arenas de san juan ligar gratis

Translate »