ताजा ख़बर

झलकारी बाई बनकर खुश हैं अंकिता लोखंडे

मुंबई के एक मध्यवर्गीय मराठी परिवार में जन्मी अंकिता को शुरू से ही अभिनय और नृत्य का शौक था और इसी शौक के चलते आगे चलकर वह एक ट्रेंड डांसर बन सकीं। इस टेलेंट के साथ, जब अंकिता ने छोटे पर्दे पर कदम रखा तो अपनी सादगी भरी खूबसूरती के साथ बेहतरीन नृत्य शैली से हर किसी का दिल जीत लिया।

टेलीविजन की सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के अवार्ड से नवाज़ी जा चुकी अंकिता लोखंडे, कंगना स्टारर फिल्म ‘मणिकर्णिका:द क्वीन ऑफ झांसीÓ के साथ बॉलीवुड में अपनी जोरदार एंट्री ले रही हैं। इसमें वह झलकारी बाई का बेहद महत्त्वपूर्ण किरदार निभा रही हैं। फिल्म में उनके अपोजिट मराठी फिल्मों के एक्टर वैभव तत्ववादी नजर आएंगे।

‘मणिकर्णिका:द क्वीन ऑफ झांसी में अंकिता और रानी लक्ष्मीबाई की सेना के वफादार सिपाही पूरण सिंह वैभव की लव स्टोरी का एंगल भी रखा गया है। झलकारी बाई, लक्ष्मीबाई की सबसे अच्छी दोस्त थीं। उनकी शक्लो सूरत भी काफी हद तक लक्ष्मीबाई से मिलती थी, इसलिए अंग्रेजों को चकमा देने के लिए अक्सर झलकारी बाई, लक्ष्मी बाई का वेश रखकर उनके साथ युद्ध करती थीं।

फिल्म में अंकिता को घुड़सवारी और तलवारबाजी का भरपूर अवसर मिला है। यदि कंगना इस फिल्म की हीरो हैं तो अंकिता को फिल्म की हीरोइन कहा जा सकता है। झलकारी बाई इस फिल्म का सबसे खूबसूरत हिस्सा है। यकीनन ‘मणिकर्णिका:द क्वीन ऑफ झांसी, अंकिता को लॉंच के लिए एक सही प्लेटफार्म है।

संजय लीला भंसाली ने ‘बाजीराव मस्तानी के एक किरदार के लिए उनसे संपर्क किया था लेकिन उस वक्त पता नहीं क्या सोचकर अंकिता ने इन्कार कर दिया जिसका आज तक उन्हें अफसोस है।

‘मणिकर्णिका:द क्वीन ऑफ झांसी वुमन ओरिएंटेड फिल्म है जिसकी कहानी अंकिता को बेहद अपीलिंग लगी। अंकिता को लगा कि इस फिल्म के जरिये पहली बार लोगों को झलकारी बाई के बारे में जानने का मौका मिलेगा।

आम तौर पर को-स्टार के साथ कंगना की ज्यादा जमती नहीं है लेकिन अंकिता के साथ उनकी बॉंडिंग शानदार रही। ‘मणिकर्णिका:द क्वीन ऑफ झांसी के चक्कर में अंकिता ने काफी टीवी शोज के ऑफर्स ठुकरा दिए।

अंकिता की स्लिम ट्रिम बॉडी लोगों को खूब आकर्षित करती रही है। अंकिता को इस फिल्म की रिलीज का बेकरारी से इंतजार है। अब तक उनकी पहचान सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत की गलफ्रेंड के रूप में रही हैं लेकिन उन्हें लगता है कि इस फिल्म के रिलीज होते ही, वह न सिर्फ अपनी खुद की पहचान बना लेंगी बल्कि छोटे पर्दे की तरह बड़े पर्दे पर भी उनकी गाड़ी तेजी से चल निकलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *