महाराजा अग्रसेन परिसर में यज्ञ-मंत्रोच्चार से शैक्षिक सत्र शुरू

नई दिल्ली। महाराजा अग्रसेन परिसर में वैदिक रीति से यज्ञ और मंत्रोच्चार के साथ नए शैक्षणिक सत्र का शुभारम्भ हुआ। रोहिणी स्थित महाराजा अग्रसेन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलोजी और मैनेजमेंट में शैक्षणिक सत्र के पहले दिन खासी चहल- पहल रही। पूरा परिसर प्राचीन और अर्वाचीन भारत की अद्भुत झलक प्रस्तुत कर रहा था। मुख्य अतिथि के रूप में गोवा की राज्यपाल महामहिम डॉ. मृदुला सिन्हा और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. रामकृपाल सिन्हा की उपस्थिति ने इस अवसर को और विशेष बना दिया। पूरा कैंपस एम.बी.ए., बी.टेक., बी.बी.ए, बी.कॉम, बी.ऐ. (जेमसी), बी.ए.एल.एल.बी. के नए छात्रों से गुलजार था।

महाराजा अग्रसेन यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति और महाराजा अग्रसेन टेक्नीकल एजुकेशन सोसायटी के संस्थापक अध्यक्ष डॉ.नन्द किशोर गर्ग ने पुस्तकें भेंट कर अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर दोनों अतिथियों ने वृक्षारोपण किया। नए छात्रों को शुभकामनाएं देते हुए डॉ.मृदुला सिन्हा ने कहा कि छात्र देशभक्त बनें और यह भाव रखें कि मुझसे आगे मेरे देश का नाम हो। उन्होंने आगे कहा कि छात्र अपने अच्छे विचारों और चरित्र के माध्यम से गलत काम करने वालों के खिलाफ दीवार बनकर खड़े हों और अपने माता-पिता व  गुरुओं का सम्मान करें। अतिथियों और नए छात्रों का स्वागत करते हुए संस्थान के संस्थापक अध्यक्ष डॉ. नन्द किशोर गर्ग ने कहा कि हमारे संस्थान की शिक्षा का उद्देश्य छात्रों को अच्छा पैकेज दिलाने के साथ-साथ अच्छा इंसान बनाना भी है, ऐसा इंसान जो समाज राष्ट्र और विश्व के कल्याण हेतु कार्य करें।  छात्रों को संबोधित करते हुए महाराजा अग्रसेन टेक्निकल एजुकेशनल सोसाइटी के अध्यक्ष प्रेम सागर गोयल ने छात्रों के सर्वांगीण विकास की बात कही। यज्ञ में यजमान के रूप में महामहिम राज्यपाल डॉ. मृदुला सिन्हा और डॉ. राम कृपाल सिन्हा, डॉ. नंदकिशोर गर्ग, प्रेम सागर गोयल सहित अन्य पदाधिकारी गण यजमान के रूप में हवन में शामिल हुए। आचार्य डॉ. विकास तिवारी ने यज्ञ संपन्न कराया। कार्यक्रम स्थल पर उपस्थित छात्र-छात्राओं और उनके अभिभावकों के साथ संस्थान के प्राध्यापकगण ने भी यज्ञ में आहुति दी। संस्थान के अध्यक्ष प्रेम सागर गोयल ने नए छात्रों का स्वागत करते हुए उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनायें दीं। अभिभावकों की ओर से श्याम परांडे ने उपस्थित जन को संबोधित किया। इस अवसर पर जगदीश मित्तल, टी.आर.गर्ग, मोहन गर्ग, ओ.पी.गोयल, सतीश गुप्ता, सुन्दर लाल, अविनाश अग्रवाल, ज्ञानेंद्र श्रीवास्तव, सुरेश जैन सहित सोसायटी के अन्य ट्रस्टी और पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *