ताजा ख़बर

सफाई कर्मचारियों की दर्दनाक मौत के दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा : तिवारी

नगर संवाददाता
नई दिल्ली । गत रविवार को दिल्ली के मोती नगर के डीएलएफ के पी टावर में सीवर की सफाई करते हुये जहरीली गेस की चपेट में आकर 5 सफाई कर्मचारियों की मौत के बाद दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, भाजपा करोल बाग जिला अध्यक्ष भारत भूषण मदान, निगम पार्षद सुश्री सुनीता मिश्रा, विपिन मल्होत्रा, रमेश बाल्मीकि के साथ डीएलएफ जाकर, जहां यह दर्दनाक हादसा हुआ वहां पर स्थानीय आर.डब्ल्यू.ए. और सफाई कर्मचारी यूनियनों से कारणों को जानने के लिए मुलाकात की।
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि गत वर्षों में सफाई कर्मचारियों की दर्दनाक मौतों के बावजूद भी मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कोई सबक नहीं ली। पिछले वर्ष मेनुअल सीवर एवं सेप्टिक टैंक पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद भी सफाई कर्मचारी अपनी रोजी-रोटी के लिए अभी भी मेनुअल काम करने पर मजबूर हैं। एक वर्ष बाद भी सफाई मजदूरों को सुरक्षा नियमों की ट्रेनिंग और नई मशीनें उपलब्ध कराने का वायदा एक छलावा ही साबित हुआ।
श्री तिवारी ने कहा कि 5 सफाई कर्मचारियों की मौत को सिर्फ एक हादसा ही नहीं मानना चाहिये इनकी हत्या के जिम्मेवार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल हैं और उन्होंने मौके पर आये राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के चेयरमैन मनहर झाला, राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के वाइज चेयरमैन हंसराज हंस के समक्ष यह मांग रखी कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज हो।
मनोज तिवारी ने कहा कि इस दर्दनाक हादसे के बावजूद मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल न तो घटना का जायजा लेने पहुंचे न ही शोक संतप्त के परिजनों से मिलने पहुंचे। इससे जाहिर होता है कि कहीं न कहीं इस निजी कम्पनी से मिलीभगत है और इस मामले को दबाने का प्रयास कर रहे हैं। वहां पर उपस्थित स्थानीय आर.डब्ल्यू.ए. एवं सफाई कर्मचारी यूनियन व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी मनोज तिवारी की मांग का समर्थन किया और जल्द से जल्द इस पर कार्रवाई का आग्रह किया।
राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के चेयरमैन मनहर झाला एवं राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के वाइस चेयरमैन हंसराज हंस ने कहा कि दिल्ली जल बोर्ड के चेयरमैन और सी.ई.ओ. को सम्मन किया जायेगा और लापरवाही के कारण हुई मृत्यु के चलते उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी और सफाई कर्मचारी की दर्दनाक मौत के दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *