ताजा ख़बर

गौरीशंकर मंदिर, चांदनी चौक में गणपति बप्पा मौर्या की धूम

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली के प्रसिद्ध सिद्ध पीठ सनातन शिवाला आपा गंगाधर श्री गौरीशंकर मंदिर में प्रथम बार सिद्धि विनायक, विघ्नहर्ता भगवान श्रीगणेश का भव्य जन्मोत्सव, गणेश चतुर्थी 13 सितम्बर से 23 सितम्बर, 2018 तक गौरीशंकर मंदिर प्रांगण में मनाया जा रहा है। गौरीशंकर मंदिर के उपप्रधान सुभाष गोयल के अनुसार इस अवसर पर ऋषिकेश से पधारे 11 वेद पाठी विद्वानों द्वारा श्री गणेश अर्थव शीर्षसहस्त्र पाठ किया जाएगा। विध्नहर्ता, पार्वती नन्दन, बुद्धिनायक का प्रतिदिन अलौकिक श्रृंगार किया जाएगा। इस हेतु श्रृंगार करने वाले विशेष कलाकारों को जिम्मेदारी सौंपी गयी है। श्री मैनेजिंग कमेटी ऑफ शिवाला आपागंगा धर व भक्तों द्वारा प्रतिदिन 101 किलो लड्डुओं का भोग प्रभुभक्तों में वितरित किया जाएगा।
11 दिवसीय गणेश चतुर्थी जन्मोत्सव का भव्य आयोजन में हिन्दू धर्म सनातन विद्वान सहस्त्रार्चन करेंगे। भक्तजन पूरे दिवस प्रातः 5 बजे से दोपहर 12 बजे तथा सांयकाल 4 बजे से रात्रि 10 बजे शयन आरती तक भगवान श्री गणेश और अनेक विग्रहों के अलौकिक दर्शन कर करेंगे। मंदिर को फूलों व विशेष रोशनी से सजाया गया है।
इस अवसर पर भक्तजन भगवान श्री गणेश के चरणों में सवामनी भोग समर्पित कर सकेंगे। सभी भक्तों को प्रसाद वितरित किया जाएगा। भक्तजन भारी संख्या में पधारे। भोग दोपहर 11 बजे लगाया जाएगा। सुभाष गोयल के अनुसार प्रभु दर्शन हेतु अनेक राजनीतिज्ञ, प्रशासनिक अधिकारी व गणमान्य व्यक्ति दर्शनार्थ मंदिर में आएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *