ताजा ख़बर

उपराज्यपाल ने ई-एफआईआर सुविधा वाले पुलिस सहायता केन्द्र का लोकार्पण किया

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने नई दिल्ली नगरपालिका परिषद् को बधाई देते हुए कहा कि परिषद् अपने क्षेत्र में स्मार्ट और डिजिटल सेवाओं से सुविधाऐं उन्नत करके न केवल यहां के नागरिकों को अपितु देश-विदेश से आये आगुंतकों को भी भरपूर लाभ पहुंचा रही हैं । यह बात उपराज्यपाल ने नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् द्वारा ई-एफआईआर सुविधा से युक्त एक पुलिस सहायता केन्द्र का उद्घाटन करने के बाद कहीं। यह अत्याधुनिक पुलिस सहायता केन्द्र एम्स मैट्रो स्टेशन के गेट नं.-2 के निकट स्थापित किया गया है। इस अवसर पर संबोधित करते हुऐ उपराज्यपाल ने कहा कि इस केन्द्र में इंटरेक्टिव स्क्रीन के माध्यम से ई-एफआईआर किये जाने की सुविधा और नागरिक सुविधाओं में ऐसी नवोन्मेष तकनीकों का उपयोग, दिल्लीवासियों के लिए एक बेहतरीन उपहार है।
उपराज्यपाल ने यह भी कहा कि पालिका परिषद् ने एक महीने के निर्धारित समय में इस अत्याधुनिक पुलिस केन्द्र को बनाकर एक ऐसी उदाहरण प्रस्तुत किया है जिसका अनुसरण दिल्ली के अन्य नगर-निकायों को जनता को आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए करना चाहिए।
नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी ने इस अवसर पर कहा कि नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् जनता को उन्नत सुविधाऐं उपलब्ध कराने के लिए सदैव आधुनिक तकनीकों को अपनाने को तत्पर रहती है। उन्होंने यह भी कहा कि आधुनिक तकनीक से जुड़ें इस पुलिस सहायता केन्द्र में ई-एफआईआर कराने की सुविधा का लाभ दिल्लीवासियों को ही नहीं अपितु देश के कोने-कोने से एम्स और सफदरजंग अस्पतालों में इलाज के लिए आने वाले मरीजों और उनके परिजनों को भी मिलेगा । दिल्ली पुलिस के आयुक्त अमूल्य पटनायक ने इस अवसर पर कहा कि यह हाई-टेक पुलिस बूथ सप्ताह में सातों दिनों-चौबीसों घण्टें कार्यरत रहेगा। यहां महिला पुलिस सहायता अधिकारी के साथ अन्य सहायक कर्मचारी भी तैनात रहेंगे । इस केन्द्र में इंटरनेट सुविधा, उद्घोषणा प्रणाली और सीसीटीवी कैमरों के फिडबैक को विश्लेषित करने की भी सुविधा होगी।
इस अवसर पर नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् के अध्यक्ष नरेश कुमार ने कहा कि इस आधुनिक तकनीक वाले पुलिस सहायता केन्द्र का सुझाव उपराज्यपाल महोदय ने दिया था तथा इसका डिजाइन भी उन्हीं के करकमलों द्वारा अनुमोदित किया गया है। इस पुलिस केन्द्र की स्थापना का उद्देश्य यह है कि सड़क किनारें बने इस बूथ पर बिना किसी को समय गवाये, कोई भी नागरिक बिना थाने जाए ही यहां से अपनी शिकायत दर्ज करवा सकें । इस अवसर पर पालिका परिषद् के उपाध्यक्ष करण सिंह तंवर, परिषद् सदस्य-डॉ. अनिता आर्य, बी.एस.भाटी एवं अब्दुल राशिद अंसारी, पालिका सचिव-श्रीमती रश्मि सिंह, पालिका परिषद्, दिल्ली पुलिस, दिल्ली मेट्रों और एम्स के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *