ताजा ख़बर

राष्ट्रीय राजमार्गों के सुधार पर 150,000 करोड़ खर्च होंगे: गड़करी

नई दिल्ली। केन्द्रीय सड़क परिवहन तथा राजमार्ग, शिपिंग, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि केन्द्र पूर्वोत्तर राज्यों में राष्ट्रीय राजमार्गों को सुधारने पर 150,000 करोड़ रुपये खर्च करेगा। इसके तहत सिक्किम में 17,000 करोड़ रुपये, असम में 48,221 करोड़ रुपये, नगालैंड में 20,000 करोड़ रुपये, मिजोरम में 12,000 करोड़ रुपये, मणिपुर में 22,000 करोड़ रुपये, त्रिपुरा में 8,000 करोड़ रुपये, अरुणाचल प्रदेश में 10,000 करोड़ रुपये और मेघालय में 8,000 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे।
श्री गडकरी आज मेघालय में राष्ट्रीय राजमार्ग-6 के उन्नत बनाए गए जोवई-राताचेरा सेक्शन को राष्ट्र को समर्पित करने के बाद शिलांग में समारोह को संबोधित कर रहे थे। राष्ट्रीय राजमार्ग का 102 किलोमीटर का यह हिस्सा दो लेन का है और ऊंचे खम्भों वाला 10 मीटर चौड़ा रास्ता है। इस पर 683 करोड़ रुपये की लागत आई है। इसमें 34 छोटे पुलों के साथ अल्फा, लुभा तथा उमप्रोशंग नदियों पर तीन बड़े पुल हैं। इसमें 34 पुलिया और 441 भूमितगत नाले हैं। सोनापुर गांव में 123 मीटर लंबी सुरंग है।
राष्ट्रीय राजमार्ग मिजोरम, त्रिपुरा तथा असम के दक्षिण-पश्चिम भागों को बेहतर सड़क सम्पर्क उपलब्ध कराएगा। गुवाहाटी से आने वाले ट्रक और भारी वाहन अब रिकॉर्ड समय में सिल्चर पहुंचेंगे। जोवई से राताचेरा का यात्रा समय चार घंटे से कम होकर ढ़ाई घंटे रह जाएगा। यह सड़क कोयला-सीमेंट उत्पागदक क्षेत्र से गुजरती है। नया राजमार्ग बराक घाटी में सामानों की तेजी से आवाजाही सुनिश्चित करेगा। इससे बांस उद्योग को बढ़ावा मिलेगा, रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त होंगे, व्याापक आर्थिक विकास वृद्धि होगी, जिससे बराक घाटी की अर्थव्यवस्था में विकास होगा। श्री गडकरी सभी पूर्वोत्तर राज्यों में जारी राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजना की व्यापक समीक्षा राज्यों के मुख्युमंत्रियों, लोक निर्माण विभाग के मंत्रियों, राज्य तथा केन्द्र सरकार के अधिकारियों और ठेकेदारों सहित सभी हितधारकों के साथ समीक्षा कर रहे हैं।
(पीआईबी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *