ताजा ख़बर

श्री गुरु गोबिंद सिंह वाणिज्य महाविद्यालय में अतर्राष्ट्रीय सैमिनार का आयोजन

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय से सम्बद्ध श्री गुरु गोबिंद सिंह वाणिज्य महाविद्यालय की सैमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम समन्वयक डॉ. कंवल गिल ने कार्यक्रम के मूल विषय ‘वैश्विक संदर्भ में भारत की संवृद्धि’ की संक्षिप्त जानकारी देते हुए समिति की ओर से समय-समय पर चलाए जाने वाली गतिविधियों के बारे में अवगत कराया। सैमिनार के आरंभिक अभिभाषण में अतिथि वक्ता संजीव सान्याल (प्रधान आर्थिक सलाहकार, भारत सरकार) ने वैश्विक पटल पर भारत की संभावित बढ़ती भूमिका के लिए चुनौतियों से जूझने की आवश्यकता पर बल दिया। तत्पश्चात, समारोह के द्वितीय अतिथि वक्ता तमल बंधोपाध्याय (रणनीति सलाहकार, बंधन बैंक तथा वैचारिक संपादक, मिन्ट) ने भारतीय बैंकिंक के वर्तमान में किए जा रहे अनवरत सतत प्रयासों से भविष्य को सफल तथा सकारात्मक बनाने के विभिन्न उपायों की विराट व्याख्या की। कार्यक्रम के तृतीय एवं अंतिम अतिथि वक्ता डॉ. मार्टिन रामा (मुख्य अर्थशास्त्री दक्षिण एशिया क्षेत्र, विश्व बैंक) ने अपने औजस्वी भाषण में कालान्तर में विभिन्न देशों में हुए आर्थिक परिवर्तनों को तुलनात्मक विश्लेषण किया। उनके अनुसार भारत विश्व की एक तेजी से बढ़ती हुई बड़ी अर्थव्यवस्था है। इसके लिए बाजार पहुंच, मूलभूत ढांचा, शहरीकरण, शिक्षा आदि कुछ उतरदायी तत्व हैं। अतिथियों के ज्वलंत भाषणों के उपरांत विद्यार्थियों ने अनेक प्रश्न रखे, जिनका निवारण अतिथि वक्ताओं ने बहुत ही कुशलता से किया। समारोह का समापन प्राचार्य डॉ. जे.वी. सिंह के धन्यवाद ज्ञापन से हुआ। इस कार्यक्रम में दिल्ली विश्वविद्यालयों एवं संस्थानों के प्रवक्ताओं तथा विद्यार्थियों ने सक्रिय रूप से भाग लिया। समारोह के समापन पर डॉ. अराधना नन्दा (विभागाध्यक्ष, अर्थशास्त्री) ने आगन्तुक अतिथि वक्ताओं तथा श्रोताओं का औपचारिक धन्यवाद प्रकट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *