ताजा ख़बर

राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री बने तो 30 दिन में मिलेगी सीलिंग से राहत: माकन

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। गैर कानूनी सीलिंग के खिलाफ कांग्रेस द्वारा चलाए जा रहे ‘‘न्याय युद्ध’’ के छठे चरण में पार्टी ने उत्तर पूर्वी संसदीय क्षेत्र के घोंडा में भाजपा व आप पार्टी को खुली चुनौती देते हुए सीलिंग की आड़ में निगम व दिल्ली सरकार द्वारा किए जा रहे भ्रष्टाचार और चलाए जा रहे सीलिंग उद्योग के खिलाफ जबरदस्त मोर्चा खोलते हुए सर्वसम्मति से पारित एक प्रस्ताव में इस सारे घोटाले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। वहीं दूसरी ओर प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने तल्ख तेवर अपनाते हुए कहा कि गैर कानूनी सीलिंग के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज किए जाए। रैली की अध्यक्षता पूर्व विधायक भीष्म शर्मा कर रहे थे। इस मौके पर अभियान समिति के संयोजक व वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा दोपहर से ही रैली स्थल पर मौजूद थे।
रैली को सम्बोधित करते हुए अजय माकन ने कहा कि पिछले 4 साल से लगातार भाजपा और आरएसएस से अगर कोई लड़ रहा है तो वो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हैं। आने वाले लोकसभा चुनाव में आप वोट कटवा पार्टी को वोट न दे। अपना वोट कांग्रेस पार्टी को देकर राहुल गांधी को देश का प्रधानमंत्री बनाऐ। श्री माकन ने कहा कि अगर आप अपना वोट कांग्रेस पार्टी को देंगे और राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री बनेंगे तो कांग्रेस पार्टी 30 दिन के अंदर सीलिंग पर निजात लगा देगी।
हुंकार रैली को अजय माकन, पूर्व मंत्री अरविन्दर सिंह लवली, हारुन यूसूफ, अभियान समिति के संयोजक वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा व पूर्व मंत्री डा नरेन्द्र नाथ,पूर्व विधायक मतीन अहमद, हसन अहमद, विपिन शर्मा, वीर सिंह धींगान व चतर सिंह ने सम्बोधित किया।
अजय माकन ने इस मौके पर कहा कि भाजपा व आप पार्टी के खिलाफ कांग्रेस ने जिस दिन से ‘‘न्याय युद्ध’’ शुरु किया उसी दिन से गैर कानूनी सीलिंग की आड़ में हो रहे भ्रष्टाचार के मामले को उठाया था। लगातार आक्रामक हो रहे श्री माकन ने कहा कि इस मुद्दे पर बुरी तरह फंसी भाजपा और आप पार्टी के नेताओं द्वारा अब कांग्रेस के इस आरोप का समर्थन करना यह साबित करता है कि दोनो दलों की छत्रछाया में यह भ्रष्टाचार हो रहा था। श्री माकन ने श्री मनोज तिवारी से पूछा कि जब दिल्ली नगर निगम के अधिकारी लोगों से अवैध रुप से धन वसूली कर रहे थे, उस समय वो चुप क्यों थे? उन्होंने यह भी कहा कि पूरी भाजपा सीलिंग की आड़ में हो रहे महा घोटालें में शामिल है और दिल्ली सरकार का पूरा संरक्षण इस महा घोटाले को है।
श्री माकन ने स्पष्ट रुप से कहा कि मास्टर प्लान में जिन औद्योगिक इकाईयों और क्षेत्रों को कानूनी संरक्षण प्राप्त है, ऐसे क्षेत्रों में सीलिंग की कार्यवाही करना न केवल गैर कानूनी है बल्कि अपराध की श्रेणी में आता है, लिहाजा जिम्मेदार लोगों के खिलाफ अपराधिक मामले भी दर्ज होने चाहिए।
अरविन्दर सिंह लवली और हारुन यूसूफ ने इस मौके पर कहा कि हुंकार रैली में हजारों लोगों की मौजूदगी यह साबित करती है कि भाजपा और आप पार्टी गैर कानूनी सीलिंग के मामले में पूरी तरह शामिल है और दिल्ली के लोगों को घरेलू उद्योग तक के मामले में राहत न मिलना दोनो दलों की जन विरोधी नीति का खुलासा करती है। दोनो नेताओं ने मांग की कि दिल्ली में घरेलू उद्योग की परिभाषा को नए सिरे से परिभाषित किया जाए और 70 प्रतिशत से अधिक इकाईयों वाले क्षेत्रों को औद्योगिक क्षेत्र घोषित किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *