ताजा ख़बर

फेक करेंसी पर बनी कॉमेडी ड्रामा फिल्म है ‘चल जा बापू’

दर्शक अब रियल इन्सीडेंट्स से जुड़ी फिल्मों को ज्यादा महत्व दे रहे हैं। निर्देशक दैदीप्य जोशी की फ़िल्म “चल जा बापू” देश में नक़ली नोट (फेक करेंसी) जैसी बुराई पर आधारित एक कॉमेडी ड्रामा फिल्म है। यह फ़िल्म बताती है कि किस तरह देश में कुछ लोग इस तरह के व्यवसाय में लिप्त हैं। एक युवा जब इनकी ठगी का शिकार होता है तो कैसे इस पूरे काले व्यवसाय का पर्दाफाश करने की ठान लेता है। यह फ़िल्म में दिखाया गया है। सेवनसीज़ प्रॉडक्शन बैनर तले निर्मित रॉयल लाईफ़ प्रोडक्शन एवं पायशियन पिक्चर्स के सहयोग से बनी दिनेश गुप्ता द्वारा प्रस्तुत”चल जा बापू” में मुख्य किरदार में बिगबॉस सीजन २ के विनर आशुतोष कौशिक, हृषिता भट्ट एवं जाकिर हुसैन नजर आएँगे। फ़िल्म में आर्यन वैद, हरीश हरिऔध, हिमानी शिवपुरी, राजू खेर और प्राची पाठक की भी अहम भूमिका है। फ़िल्म में आशु (आशुतोष कौशिक) एक बेहद बिंदास और अल्हड़ किस्म के युवा का किरदार निभा रहे हैं जिसे लगता है कि जिंदगी में सबकुछ अपने आप हो जाएगा। घुमक्कड़ और बिंदास आशु को पल्लवी (हृषिता भट्ट) से प्यार हो जाता है और अपनी जिद का पक्का आशु पल्लवी से शादी कर लेता है। आशु के कुछ काम काज न करने की वजह से पल्लवी नाराज है। इस बीच आशु को बाबा मूलमंत्र (जाकिर हुसैन) से 500 का नकली नोट आशीर्वाद के रूप में मिलता है जिसे कई बार चलाने की कोशिश करने पर भी वो नोट बाज़ार से वापस आ जाता है। क्या आशु इस नकली नोट को चला पायेगा? क्या काले व्यापार में लिप्त समाज के सफ़ेदपोश लोगों को उन्ही की भाषा में जवाब दे पायेगा? क्या वो पत्नी, माँ और पिता का विश्वास फिर से जीत पायेगा? यही फिल्म की दिलचस्प कहानी है। फिल्म की शूटिंग सहारनपुर उत्तर प्रदेश के विभिन्न लोकेशंस पर की गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *