ताजा ख़बर

देश को प्रगति की ओर ले जाने की नींव पंडित नेहरु ने रखी : माकन

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा है कि भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु ने देश के विकास की जो नींव रखी आज उसी की बदौलत हमारा देश आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को हासिल करने में कामयाब हुआ है। श्री माकन प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में पंडित जवाहरलाल नेहरु के 129वें जन्मदिन बाल दिवस के मौके पर आयोजित पुष्पाजंलि कार्यक्रम में बोल रहे थे। प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन सहित अनेक कार्यकर्ताओं ने भी पं. नेहरु जी के चित्र पर फूल चढ़ाऐ।
पं. नेहरु को श्रद्धाजंलि देने वालों में प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव प्रभारी पी.सी. चाको, पूर्व सांसद रमेश कुमार, वरिष्ठ नेता चतर सिंह, पूर्व विधायक वीर सिंह धींगान, हरी किशन जिंदल, सतेन्द्र शर्मा, डा. पी.के. मिश्रा, अब्दुल वाहिद, जे.पी. पंवार,आदेश भारद्वाज, कप्तान सिंह और कुलजीत सिंह सहित निगम पार्षद, पूर्व निगम पार्षद, ब्लाक अध्यक्ष व सैंकड़ो कांग्रेस कार्यकर्ता मुख्य रुप से मौजूद थे।
प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि पं. नेहरु ने देश को सिर्फ आजादी ही नहीं दिलाई बल्कि आजादी के बाद भारत के विकास की ऐसी नीति तैयार की जिसकी बदौलत हमारे देश ने शिक्षा, गरीबी उन्मूलन तथा औद्योगिक विकास के साथ-साथ विदेशों से भाई चारे और सहयोग के नए-नए दरवाजे खुलते गए तथा भारत विश्व मानचित्र पर उभरता गया। श्री माकन ने कहा कि हमारे उपर पंडित नेहरु के महान व्यक्तित्व और उनके त्याग से प्रेरणा लेकर कांग्रेस पार्टी और देश दोनों को नई उॅचाईयों पर ले जाने की नैतिक जिम्मेदारी है।
अजय माकन ने कहा कि देश को प्रगति की ओर ले जाने की असली नींव पंडित नेहरु ने ही रखी थी इसलिए राष्ट्र हमेशा उनकी भूमिका की सराहना करता रहेगा और कांग्रेस का कार्यकर्ता उनके उच्च आदर्शो और प्रगतिशील विचारों से प्रेरणा लेकर भारत को उॅचाईयों की बुलंदियों तक ले जाएगा। उन्होंने कहा पंडित नेहरु ने किस तरह आगे बढ़कर गुटनिरपेक्ष आंदोलन को चलाने में अहम भूमिका निभाई और विकासशील देशों को नई दिशा प्रदान की जिसकी बदौलत शक्तिशाली राष्ट्रों को विकासशील देशों के प्रति वर्चस्व की नीति का परित्याग कर सहयोग की नीति अपनानी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *