ताजा ख़बर

भागवत कथा में भक्तमाल की कथा प्रसंग के द्वारा दिया भक्ति संदेश

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता वीरेन्द्र जुयाल के नेतृत्व में पूर्वी दिल्ली के पश्चिमी विनोद नगर में श्री बद्रीनाथ मन्दिर प्रांगण में आयोजित हो रही भागवत कथा में व्यासपीठ पर विराजमान पूज्य सन्त प्रियाशरण जी महाराज ने भक्तमाल की कथा द्वारा प्रांगण में उपस्थित भक्तों को भक्ति संदेश से सराबोर किया। कथा के दौरान अटल बाल निबन्ध प्रतियोगिता व बाल गायन प्रतियोगिता तथा बाल ज्ञान प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय आए बालको को प्रोत्साहन स्वरूप व्यासपीठ से सम्मानित किया गया।
व्यास पीठ से बोलते हुए आचार्य प्रियाशरण जी महाराजन ने कहा कि हिन्दुओं की आस्था के प्रतीक भगवान श्रीराम के मन्दिर का निर्माण शीघ्र ही होना चाहिए, तथा गऊ रक्षा के लिए हमें सच्चे हृदय से समर्पित रहना चाहिए।
श्रीमद्भागवत महापुराण कथा आयोजन समिति के तत्वावधान में आयोजित हो रही भागवत कथा के तेरहवें महाआयोजन में कथा के अंतिम दिवस श्री वीरेन्द्र जुयाल ने कहा कि आज के संदर्भ में उत्तराखण्ड से लोगों का पलायन एक विकट समस्या का रूप लेती जा रही है। उत्तराखण्ड की सीमाऐं चीन की सीमाओं से सटी हुई हैं, हम अपने गाँव अपने क्षेत्र में रहते हुए एक प्रकार से अपने देश की सीमाओं के प्रहरी की भूमिका भी निभा सकते हैं। साथ ही उत्तराखण्ड सरकार से आग्रह किया कि लोगों को उत्तराखण्ड में ही रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने की दिशा में आवश्यक कदम उठाऐं ताकि लोग पलायन करने पर मजबूर न होने पाएं। समापन के अवसर पर बीरेन्द्र जुयाल ने समस्त कार्यकारिणी, क्षेत्र की सभी कीर्तन मण्डली एवं हिमनद महिला संघ का धन्यवान किया।
इस अवसर पर वीरेन्द्र जुयाल, बी.एल ढौंडियाल, दीपक डंडरियाल, शैलेन्द्र जैन, जगदम्बा सिंह, खुशाल मणी बन्दूणी, दिनेश जोशी, अशोक काला, अंकुश शर्मा, वीरपाल सिंह, केशव सिंह, धर्मेन्द्र कुमार, ओमप्रकाश रावत, दर्शन सिंह सजवाण, दयाल सिंह नेगी, पूरन जोशी, बीना ढौंडियाल, गायत्री जयड़ा, दीपा तिवारी, भावना खुल्बे, शशि चमोली, कृष्णा सिलस्वाल, रजला बागड़ी, सृष्टि रावत, साक्षी रावत सहित काफी संख्या में क्षेत्रीय निवासी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *