ताजा ख़बर

कैट ने लिया भाजपा का समर्थन करने का निर्णय

नई दिल्ली । देश भर के व्यापारियों के शीर्ष संगठन कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने विभिन्न राजनैतिक दलों के चुनाव घोषणा पत्रों का व्यापक और बारीक अध्ययन करने के बाद और देश के भविष्य को मजबूत बनाने को ध्यान में रखते हुए देश भर मेंभारतीय जनता पार्टी का समर्थन करने और 7 करोड़ व्यापारियों को एक वोट बैंक के रूप में लामबंद करते हुए वर्तमान लोकसभा चुनावों में भाजपा एवं एनडीए के सहयोगी दलों के पक्ष में मतदान करने का निर्णय लिया है ! देश भर के 40 हजार से अधिकव्यापारी संगठनों के माध्यम से कैट इस सन्देश को देश के कोने कोने में व्यापारियों को पहुंचाएगा और उन्हें भाजपा के पक्ष में समर्थन एवं मतदान करने का आग्रह करेगा वहीँ कैट के कानाफूसी अभियान के अंतर्गत देश भर में व्यापारी अपने प्रतिष्ठान में आनेवाले ग्राहकों को भी भाजपा के समर्थन के लिए प्रेरित करेंगे तथा अपने 30 करोड़ कर्मचारियों से भी भाजपा को वोट देने के लिए कहेंगे ! देश के विभिन्न राज्यों में लगभग 195 लोकसभा सीटें ऐसी हैं जिन पर व्यापारियों का प्रभुत्व है और व्यापारियों का रूखइन सीटों पर चुनाव परिणाम तय कर सकता है !
कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी. सी. भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री श्री प्रवीन खंडेलवाल ने बताया की कैट ने यह निर्णय देश भर के प्रमुख व्यापारी नेताओं से विचार विमर्श कर और कल दिल्ली में आयोजित विभिन्न राज्यों के व्यापारी नेताओं की हुई एक बैठकमें मिले फीडबैक के बाद लिया गया है ! देश के व्यापारी वर्ग ने इन चुनावों में एक निर्णायक भूमिका निभाने का संकल्प लिया हुआ है !
देश के राजनैतिक परिदृश्य में एक तरफ भाजपा का नेतृत्व वाला एनडीए गढ़बंधन है जो एक होकर पूरे देश में चुनाव लड़ रहा है तो दूसरी तरफ विभिन्न दलों का महागठबंधन है जिसके राजनैतिक दल विभिन्न राज्यों में एक दूसरे के खिलाफ ही चुनाव लड़ रहेहैं , इस वजह से वो देश में एक मजबूत और स्थायी सरकार देने में सक्षम नहीं है और भारत का व्यापार एवं अर्थव्यवस्था उनके सत्ता में आने से सदा अस्थिर ही रहेगी !
श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने कहा की आज देश को एक ऐसे मजबूत नेता की आवश्यकता है जिसमें दूरदृष्टि हो,निर्णय लेने की क्षमता हो और सत्ता मैं आने के बाद देश को आगे ले जाने की ललक हो ! निर्णय बेशक कठोर हों और राजनैतिक दृष्टि सेसंभवत : फायदेमंद न भी हो लेकिन राष्ट्रहित में हो ! गत पांच वर्षों में हमने देखा है की प्रधानमंत्री श्री मोदी ने अनेक निर्णय ऐसे लिए जिनसे राजनैतिक नुक्सान ज्यादा हो सकता था किन्तु श्री मोदी ने दृढ़ता से यह निर्णय लिए जिनमें जीएसटी एवं नोटबंदीप्रमुख हैं ! जो निर्णय लिए गए उनमें व्यापारियों एवं अन्य लोगों की मांग पर आवश्यक संशोधन करने में भी प्रधानमंत्री मोदी ने कतई देर नहीं लगाई ! देश में व्याप्त भ्रष्टाचार और इंस्पेक्टर राज को ख़त्म करना है और बेलगाम बाबूशाही पर शिकंजा भीकसना है और यह काम इस समय केवल श्री मोदी जैसा दृढ़ निश्चयी व्यक्ति ही कर सकता है !
उन्होंने यह भी कहा की कैट ने कांग्रेस और भाजपा के चुनाव घोषणा पत्रों का बारीकी से अध्यन किया और पाया की भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में व्यापारियों के मुद्दों को प्रमुखता और वरीयता देते हुए अपने संकल्प पत्र में शामिल किया है जिनमें मुख्य रूप सेएक राष्ट्रीय व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन, रिटेल व्यापार के लिए एक राष्ट्रीय नीति, 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यापारियों को पेंशन, जीएसटी में पंजीकृत व्यापारियों को 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा , किसान क्रेडिट कार्ड की तर्ज़ पर व्यापारी क्रेडिट कार्डदेना, व्यापारियों को 50 लाख रुपये तक का क़र्ज़ बिना किसी गारंटी के देना आदि शामिल किये गए हैं जिनके क्रियान्वयन से निश्चित रूप से देश में घरेलू व्यापार विकसित होगा और व्यापार के नए अवसर उपलब्ध होंगे !
श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने कहा की इस निर्णय के बाद देश भर में व्यापारी अपने स्तर पर अब श्री मोदी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को विजयी बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे और देश भर में भाजपा एवं उसके सहयोगी दलों के पक्ष में सकारात्मकराजनैतिक माहुल बनाने में अहम् भूमिका निभाएंगे! देश भर में फैले व्यापारी संगठन कैट की इस सलाह के बाद अपने अपने राज्यों एवं शहरों में बड़ी संख्यां में व्यापारिक बाज़ारों में व्यापारियों की मीटिंग कर भाजपा का व्यापक प्रचार करेंगे !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *