अजय माकन ने करोल बाग जिले में लोक सम्पर्क अभियान की शुरुआत की

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन नई दिल्ली संसदीय क्षेत्र के करोल बाग जिलें में लोक सम्पर्क अभियान जो कि लगभग एक महीने तक 19 नवम्बर तक चेलगी, इसकी शुरुआत आज संत रविदास चौक, प्यारेलाल रोड़ बापा नगर, करोल बाग निगम जोन कार्यालय के नजदीक से की। जिसके तहत अजय माकन कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ घर-घर जाकर आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार तथा केन्द्र की मोदी सरकार की विफलताओं को लेकर बनाई गई पुस्तिकाओं को भी लोगों को बांटा। लोगों ने स्वेच्छा से श्री अजय माकन को कांग्रेस के कूपन लेकर चंदा दिया। श्री माकन ने बताया कि पूरी दिल्ली में 3 लाख से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ता घर-घर जाकर इस कार्यक्रम को 19 नवम्बर तक चलाऐंगे।
लोक सम्पर्क अभियान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी के निर्देश पर पूरे देश में चलाया जा रहा है। जिसके तहत सभी ब्लाक कांग्रेस कमेटियां के कांग्रेस कार्यकर्ताओं, बूथ अध्यक्ष, बूथ स्तर पर घर-घर जाकर देशवासियों से मिलेंगे। इस अभियान के तहत देशवासियों को भाजपा की केन्द्र सरकार व राज्यों में गैर कांग्रेसी सरकारों की विफलताओं के बारे में बताऐंगे।
कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार और भाजपा की केन्द्र सरकार की विफलताओं और वादा खिलाफी के खिलाफ दो पुस्तिकाऐं ’’झूठे वादो का खेल – मोदी सरकार फेल’’, और झूठे वायदों, बेईमानी और भ्रष्टाचार का खुल्ला खेल – केजरीवाल सरकार फेल’’ को घर-घर जाकर दिल्ली की जनता को बांटा।
कार्यक्रम में अजय माकन के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस के कॉओर्डिनेटर अजय शर्मा, वरिष्ठ नेता चतर सिंह, करोल बाग जिला अध्यक्ष मदन खोरवाल, निगम पार्षद सुशीला खोरवाल, महमूद जिया, पूर्व विधायक दर्शना रामकुमार, पुरुषोतम विनायक, बूथ अध्यक्ष रमेश गौतम, भोपाल सिंह, अशोक छोकर तथा दिवान चंद, नरेश शर्मा नीटू, अनिल कुकरेजा, कमल मोहनपुरिया, मनीष नागर, कुसुम निम मुख्य रुप से मौजूद थी।
अजय माकन कांग्रेस बूथ अध्यक्षों रमेश गौतम, भोपाल सिंह, अशोक छोकर तथा दिवान चंद के बूथों पर साथ जब घर-घर गए तो लोगों ने आम आदमी पार्टी तथा भाजपा पर गुस्सा निकालते हुए अपनी व्यथा सुनाई कि चाहे दिल्ली सरकार हो या केन्द्र सरकार दोनो ने जनता के साथ विश्वासघात किया है क्योंकि चाहे पेट्रोल या डीजल हो या आवश्यक वस्तुओं के दाम दोनो उनकी पहुच से बाहर हो रहें है। कई महिलाओं ने आंख में आंसूओं के साथ बताया कि रसोई चलाना मुश्किल हो रहा है क्योंकि जो गैस सिलेंडर 450 का आता था आज वह दुगना होकर लगभग 900 रुपये का हो गया है। मंहगाई के कारण रोजमर्रा की वस्तुओं को मुहैया कराने के लिए खाने की चीजों और सब्जियों व अन्य जरुरत की चीजों में कटौती करनी पड़ रही है।
श्री माकन ने बताया कि चाहे युवा हो, मजदूर या छोटे दुकानदार सभी ने आगे बढ़कर उनसे बातचीत की और बताया कि किस प्रकार दिल्ली व केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के कारण परेशान है। एक युवा ने बताया कि ग्रेजुएट हुए 4 हो चुके है परंतु उसको अभी तक सरकारी नौकरी नही मिली है, जबकि मोदी और केजरीवाल दोनो ने वायदा किया था कि सत्ता में आने पर प्रतिवर्ष लाखों बेरोजगारों को नौकरियां देंगे। श्री माकन ने कहा कि अब स्पष्ट हो गया कि दिल्ली की जनता केजरीवाल के झूठे वायदों और काम न करने के बहानों तथा मोदी के जुमलों व उनकी नाकामियों से तंग आ चुकी है और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तरफ उम्मीद की नजरों से देख रही है कि सिर्फ कांग्रेस पार्टी देश की जनता का भला कर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »