लिबर्टी शूज़ ने अपने अभियान ‘चल बढ़ चल’ के तहत लान्च किया एथलीश्योर ब्राण्ड

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। पिछले कुछ सालों के दौरान भारत में फिटेनैस की तरफ झुकाव तेज़ी से बढ़ा है। तेज़ी से बढ़ती सम्पत्ति, बदलती जीवनशैली और शहरीकरण के कारण बड़ी संख्या में भारतीय आज स्वास्थ्य के प्रति सजग हो गई हें और अपनी व्यस्त जीवनशैली के बीच अपने आप को तंदुरूस्त बनाए रखने के लिए कोशिश करने लगे हैं।
अनुपम बंसल, एमडी, रीटेल लिबर्टी शूज़ ने कहा -लिबर्टी ने अपने अभियान चल बढ़ चल के तहत नया कलेक्शन लीप 7ग पेश किया है। ये जूते बेहद स्टाइलिश हैं जो आपके किसी भी कैजुअल या स्पोर्टी लुक के साथ मैच करेंगे। ब्लैक, ग्रे, व्हाईट और ब्लू कलर्स में उपलब्ध ये स्टाइलिश जूते बेहद आरामदायक भी हैं, जिन्हे पहन कर आप भीड़ में एकदम अलग नज़र आएंगे
श्री बंसल ने कहा जहां तक कारोबार रणनीति का सवाल है ब्राण्ड दूसरे एवं तीसरे स्तर के शहरों में अपने आप को मजबूती से स्थापित करना चाहता है। जहां एक ओर खेल से जुड़ी बड़ी बहुराष्ट्रीय कंपनियां पहले स्तर के शहरों और बड़े महानगरों को अपनी सेवाएं प्रदान कर रही हैं। आज छोटे शहरों के युवा भी बेहद महत्वाकांक्षी हैं और आज के इस दौर में आधुनिक ब्राण्ड्स के साथ जुड़ना चाहते हैं।
लीप 7ग लिबर्टी के चल बढ़ चल के तहत पेश किया गया आधुनिक कलेक्शन है। हाल ही में हमने मिस रोशनी मिसबाह, महिला हिजबी बाइकर और बास्केटबाल टेनर प्रद्युत वोलेटी के साथ शूट किया। आने वाले समय में हम ऐसे कई वीडियोज़ शूट करेंगे।
बरूण प्रभाकर, मार्केटिंग हैड, लिबर्टी शूज़ ने कहा भारतीय फुटवियर उद्योग के सामने कई चुनौतियां हैं, हम 2030 तक टाप 5 सुपरपावर्स की सूची में शामिल होना चाहते हैं इसक लिए हमें 7-8 जोड़ी की कंज़प्शन रेट तक पहुंचना होगा। ऐसे में भारत को बढ़ती आबादी को ध्यान में रखते हुए 8-10 बिलियन जोड़े बनाने होंगे। बदलती जीवनशैली, बढ़ती आय के साथ फुटवियर उद्योग के आने वाले समय में तेज़ी से बढ़ने का अनुमान है।
बरूण प्रभाकर ने कहा लीप 7ग हर मोके लिए उपयुक्त है, फिर आप चाहे इसे वर्कआउट के लिए पहनना चाहते हैं या काफी आउटिंग के लिए या परिवार या दोस्तों के साथ फिल्म देखने जाने के लिए । इसके डिज़ाइन बेहद आरामदायक और स्टाइलिश हैं। मोल्डेड लेस फिटिंग, मैमोरी फोम इनसोल, बेहतरीन गुणवत्ता की पैडिंग और आधुनिक फ्लो प्सल टेक्नोलाॅजी के साथ ये बेहद आरामदायक अहसास देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »