कांग्रेस ने भाजपा कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने दिल्ली में पूर्वाचंलवासियों के दिल्ली में विकास के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि पूर्वांचलवासियों ने अपना खून पसीना बहाकर दिल्ली को आगे बढ़ाया है। हम पूर्वाचंलवासियों के खिलाफ भाजपा के सांसद द्वारा किए गए दुर्व्यवहार की कड़ी आलोचना करते है और इस प्रकार के व्यवहार को बर्दाश्त नही करेंग।
प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन की अगुवाई में पूर्वाचंल कांग्रेस द्वारा दिल्ली भाजपा पर किए गए प्रदर्शन में पूर्वाचंलवासियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब तक भाजपा के सांसद अपनी गलती मानकर अपने पद से त्याग पत्र नही देते तब तक दिल्ली पूर्वांचल कांग्रेस दिल्ली की 70 विधानसभाओं में शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन करेगी।
प्रदर्शनकारियों में प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय माकन के अलावा पूर्व सांसद महाबल मिश्रा, वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा, पूर्वाचंल कांग्रेस चैयरमेन शिवजी सिंह, डॉ पीके मिश्रा, श्री प्रदीप कुमार पांडे, पूर्वांचल कांग्रेस के संयोजक, जिला अध्यक्ष श्री आरके मिश्रा, पवन कुमार तिवारी, श्री विनोद दुबे, पुष्पेंद्र श्रीवास्तव, शानशंखा झा, और विपुल मिश्रा, डीके मिश्रा, श्रीकांत विद्यार्थी, विनय मिश्रा, सरोज मिश्रा और इंद्रजीत मिश्रा समेत अन्य पदाधिकारी भी मौजूद थे।
अजय माकन ने कहा कि यदि हम भाजपा के इतिहास पर नजर डाले तो यह साफ जाहिर होता है कि उन्होंने लोगों को क्षेत्रवाद के नाम पर बांटने की कोशिश की है। और इस सिलसिले की शुरुआत 1999 में दिल्ली से हुई, जब भाजपा के मेयर योगध्यान आहुजा ने यह कहा था कि बिहार और यूपी से प्रवासी दिल्ली आते है और वे अपने साथ खुले में शौच जैसी गंदी आदते लाते है।
अजय माकन ने कहा कि इसी प्रकार 2005 में उस समय के भाजपा नेता श्री प्रमोद महाजन ने बिहार के विद्यार्थियों की तुलना अफ्रीका के लोगों से की थी। श्री माकन ने कहा कि भाजपा के ही दिल्ली के नेता विजय जौली ने दिल्ली के न्यायायल में एक याचिका दायर करके यह कहा था कि दिल्ली से बाहर के विद्यार्थियों को रोका जाए। इसी प्रकार भाजपा नेता विजय गोयल ने 2014 में राज्यसभा में कहा था कि पूर्वाचंली लोग दिल्ली में आते है और बस जाते है जिसके कारण दिल्ली का विकास रुक जाता है। श्री माकन ने कहा कि भाजपा की तरह आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री द्वारा भी दिल्ली के अस्पतालों में दिल्ली के आसपास के पूर्वाचंलवासियों को इन अस्पतालों में इलाज करवाने से रोकने की कोशिश की गई थी। श्री माकन ने कहा कि बड़ी अजीब बात है कि जो पूर्वाचंलवासी दिल्ली में रहते है और यदि उनके माता पिता दिल्ली में आते है तो उनको भी आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने ईलाज करवाने से रोकने की कोशिश की है। जबकि पूर्वाचंलवासियों ने हमेशा कड़ी मेहनत के साथ दिल्ली के विकास में अपनी भागीदारी निभाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »