कस्तूरबा अस्पताल में तीन दिवसीय मधुमेह जागरूकता कार्यक्रम का समापन

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। मधुमेह के विषय में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से उत्तरी दिल्ली नगर निगम के कस्तूरबा अस्पताल में आयोजित तीन दिवसीय कार्यक्रम का आज समापन हुआ। इस अवसर पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति की अध्यक्ष वीना विरमानी, नेता सदन तिलकराज कटारिया, स्थायी समिति के सदस्य रमेश कुमार, अतिरिक्त आयुक्त जयराज नायक, निदेशक अस्पताल प्रशासन डॉ. अरूण यादव, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. संगीता नांगिया अजमानी और अन्य वरिष्ठ डॉक्टर व निगम अधिकारी मौजूद रहे।
तीन दिवसीय कार्यक्रम के दौरान मधुमेह से संबंधित विभिन्न तथ्यों, शोधों और नई उपचार विधियां पर चर्चाएं की गईं। इस दौरान मधुमेह के विभिन्न शारिरिक अंगों पर प्रभाव और उनके उपचार पर केंद्रित परिचर्चाएं, जागरूकता को लेकर नुक्कड़ नाटक, कठपुतली शो और अन्य कार्यक्रम आयोजित किए गए। तीन दिवसीय कार्यक्रम का केंद्रीय विषय ‘गर्भावस्था में मधुमेह’ रहा जिसे लेकर विशेषज्ञों ने महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की।
विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर शुरू हुए इस कार्यक्रम के समापन सत्र को संबोधित करते हुए स्थायी समिति अध्यक्ष विना विरमानी ने कहा कि दिल्ली जैसे शहरों की जीवनशैली को देखते हुए मधुमेह के बारे में जागरूकता फैलाना बेहद जरूरी है ताकि समय रहते इसका उपचार किया जा सके। उन्होंने कहा कि मधुमेह के दौरान खान-पान नियंत्रित करने और अन्य जरूरी कदम उठाने के लिए यह जरूरी है कि इस बीमारी को लेकर लोगों के मन से भ्रांतियों को दूर किया जाए। उन्होंने कहा कि बीमारियों के लेकर आम लोगों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए इस तरह के कार्यक्रम बेहद जरूरी है। उन्होंने इस आयोजन के लिए कस्तूरबा अस्पताल की टीम की सराहना की। वहीं, नेता सदन कटारिया ने कहा कि अच्छी जीवनशैली अपनाकर हम कई बीमारियों से बच सकते हैं। उन्होंने कहा कहा कि बीमारियों से बचाव के लिए यह बेहद जरूरी है कि हमें उनके बारे में बुनियादी जानकारी हो। उन्होंने कहा कि मौजूदा दौर में एक जागरूक समाज ही स्वस्थ समाज हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »