मनोज तिवारी ने किया प्रेस वार्ता का आयोजन

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यंमत्री अरविन्द केजरीवाल पर हुये फेब्रीकेटिड मिर्च पाउडर हमले और आम आदमी पार्टी के विधायक एंव पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती द्वारा एक महिला टीवी पत्रकार पर अभद्र आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर पत्रकार वार्ता की। इस वार्ता में प्रदेश महामंत्री राजेश भाटिया, उपाध्यक्ष डा. मोनिका पंत, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम में नेता सदन श्रीमती कमलजीत सहरावत, पूर्व महापौर डा. प्रीति अग्रवाल, मीडिया प्रभारी श्री प्रत्युष कंठ, मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा, सह-प्रमुख आंनद त्रिवेदी उपस्थित थे।
पत्रकार वार्ता में मनोज तिवारी ने कहा कि कल जब दिल्ली के मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंकने की घटना का मुझे पता चला उसके 15 मिनट के अंदर हमनें डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से इसकी कड़ी निंदा की। लेकिन 1 से 1.30 घंटे बाद आम आदमी पार्टी द्वारा प्रेस वार्ता कर तुरन्त इस घटना का दोष भाजपा पर लगा दिया गया। पाप के पैसों से शासन चलाने वाले केजरीवाल की मोडस अपरेंडी बताना जरूरी है। सहानुभूति लेने का यह तरीका बहुत पुराना है और जब भी लोकसभा या विधानसभा के चुनाव नजदीक आते हैं तो इस तरह की घटनायें सामने आती हैं। दिल्ली विधानसभा चुनाव से ठीक पूर्व इससे पहले भी 18 नवम्बर 2013 में नचीकेता ने केजरीवाल पर काला पेन्ट फेंका, लोकसभा चुनाव से पहले 5 मार्च 2014 में केजरीवाल की गाड़ी पर किसी ने पत्थर फेंका, 25 मार्च 2014 को वाराणसी में केजरीवाल पर स्याही और अंडे फेकें गए, 28 मार्च 2014 को हरियाणा में केजरीवाल को थप्पड़ मारा गया, 4 अप्रैल 2014, 8 अप्रैल 2014, 26 दिम्सबर 2014 और चार राज्यों के चुनाव से पहले 17 जनवरी 2016 को मुख्यमंत्री के ऊपर स्याही व अंडे फेंककर विरोध किया गया और अब यह मिर्ची हमला ये सब घटनायें सिग्नेचर ब्रिज पर हुये मुझ पर घातक हमले और सोमनाथ भारती द्वारा महिला एंकर पर की गई अपनी अभद्र टिप्पणियों पर पर्दा डालने व जनता का ध्यान भटकाने के लिए और मीडिया में सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए आम आदमी पार्टी के मुखिया द्वारा की गई।
श्री तिवारी ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंकने वाले की कहानी जानना अत्यंत आवश्यक है वह सचिवालय के अंदर कैसे आया यह सवाल उठता है। जिस सचिवालय में पत्रकारों का प्रवेश भी पास बनवाने के बाद किया जाता है दोपहर 12.41 बजे अनिल कुमार नाम का व्यक्ति मुख्यमंत्री के कार्यालय में जाने के लिए पास बनाता है जिसका पास मुख्यमंत्री के कार्यालय से फोन आने के बाद बनाया जाता है ठीक दोपहर 2.10 बजे वह व्यक्ति अरविन्द केजरीवाल के पैर छूता है और उसके बाद हमला करते हुए पाउडर फेंक देता है। जिससे यह पता चलता है कि यह सुनियोजित था और स्क्रिप्ट के तहत किया गया।
श्री तिवारी ने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता कर जिस व्यक्ति द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंका गया उसका भाजपा समर्थक होने का आरोप लगाया लेकिन देश की बेटी महिला पत्रकार के आत्म सम्मान पर जो आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती ने अभद्र टिप्पणीं की उस पर चुप्पी साधकर बैठ गये।
श्री तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल चुल्लूभर पानी में डूब जाओ, आप की कार्यप्रणाली (माॅडस अपरेंडी) पता चल गया है, प्रश्न उठने से पहले बेचारा बनने की नीति का अब देश और दिल्ली के लोग समझ गये हैं। अगर केजरीवाल में जरा सी नैतिकता या शर्म बाकी है तो वह सोमनाथ भारती पर समुचे महिला समाज का अपमान करने पर एक मुख्यमंत्री होने के नाते कड़ी कानूनी कार्यवाही के लिए पहल करें। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त किया कि हमेशा सुर्खियों में रहने वाली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल महिला एंकर के खिलाफ एक विधायक द्वारा एक अपराधिक कृत्य के बावजूद न तो बयान देने की स्थिति में है न ही संज्ञान लेने की। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता जानना चाहती है कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की प्राथमिकता क्या है, झूठा नाटक या महिला का सरेआम चरित्र हनन। हम इसकी शिकायत डीसीडब्ल्यू और भारतीय प्रेस परिषद से करेंगे, दिल्ली में प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा जब तक सोमनाथ भारती को कड़ी से कड़ी सजा न हो जाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »