आप पार्टी लोगों के मन में धार्मिक और जातिवाद का जहर घोल रही है : विजेन्द्र गुप्ता

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। एक पत्रकारवार्ता में दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने भाजपा के विरुद्ध आम आदमी पार्टी द्वारा निराधार आरोप लगाये जाने की घोर भत्र्सना की है। श्री गुप्ता ने कहा कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में होने वाली अपनी हार के डर से आम आदमी पार्टी झूठ बोल रही है और धर्म तथा जाति की विषाक्त राजनीति के माध्यम से दिल्ली के लोगों के बीच घृणा फैला रही है। विधायक ओम प्रकाश शर्मा, जगदीश प्रधान, सरदार मनजिन्दर सिंह सिरसा, मीडिया सह प्रभारी नीलकांत बक्शी, मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
पत्रकारों को सम्बोधित करते हुये श्री गुप्ता ने केजरीवाल द्वारा 27 नवम्बर 2018 को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाये जाने पर प्रश्न उठाया तथा मुख्य निर्वाचन आयोग के कार्यालय में सर्वदलीय बैठक में आम आदमी पार्टी द्वारा मतदाता सूची से नाम काटे जाने के संबंध में कोई चर्चा नहीं की गई। श्री गुप्ता ने बताया कि वर्ष 2015 से 2018 के बीच 13,73,300 नाम जोड़े गये हैं। केवल वैश्य समुदाय के 5 लाख मतदाता जुड़े हैं।
श्री गुप्ता ने मुख्यमंत्री से पूछा कि उन्होंने दिल्ली के निर्वाचन विभाग के मंत्री इमरान हुसैन के विरूद्ध कोई प्रशासनिक कार्यवाई क्यों नहीं की। श्री गुप्ता ने सीधे यह आरोप लगाया कि इमरान हुसैन, जिसके अधीन दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा सर्वेक्षण कराया गया और मतदाता सूची तैयार की गई, इस मामले में पूर्णत: संलिप्त हैं और यदि आम आदमी पार्टी समझती है कि मतदाता सूची से 30 लाख नाम काटे जाने का दावा सही है तो दिल्ली के मुख्यमंत्री उन लोगों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करते जो इसमें संलिप्त थे। किन्तु इस संबंध में कोई कार्रवाई न होना आम आदमी पार्टी का पर्दाफाश करता है।
आम आदमी पार्टी की निंदा करते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि उनका दावा है कि 30 लाख नाम काट दिये गये किन्तु दूसरी ओर जब दिल्ली में मुख्य निर्वाचन आयोग के कार्यालय में 31 अगस्त 2018 को सर्वदलीय बैठक में आम आदमी पार्टी के दो सदस्य पंकज गुप्ता और दिलीप पाण्डेय चुप रहे और मतदाता सूची से नाम काटे जाने के संबंध में कोई प्रश्न नहीं उठाया।
श्री गुप्ता ने आम आदमी पार्टी नेताओं की कड़ी निंदा करते हुये कहा कि उनकी मंशा का पर्दाफाश हो गया है क्योंकि वे अब अपने राजनीतिक लाभ के लिए दिल्ली के लोगों के मन में धार्मिक और जातिवाद का जहर घोल रही है।
बुराड़ी एवं पटपडग़ंज जैसे विधानसभा क्षेत्र के आंकड़े देते हुये जिनमें पूर्वांचल समुदाय के लोग बहुसंख्या में हैं, कहा कि बुराड़ी में 43,431 मतदाता और पटपडग़ंज में 21,787 मतदाता जुड़े हैं। श्री गुप्ता ने इस बात का भी उल्लेख किया कि वैश्य समुदाय बहुसंख्यक विधानसभा सीटों पर भी मतदाताओं की संख्या में वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि मैं भी वैश्य समुदाय से हूँ और मेरे विधानसभा क्षेत्र में भी लगभग 13,675 मतदाता बढ़े हैं।
श्री गुप्ता ने कहा कि इन निर्वाचन क्षेत्रों के किसी भी विधायक ने विधानसभा के विशेष सत्र में इन निर्वाचन क्षेत्रों के बारे में कोई शंका नहीं जताई जिससे आम आदमी पार्टी का यह दावा झूठा साबित होता है। यह अत्यंत दुखद है कि आम आदमी पार्टी अपने राजनीतिक लाभ के लिए विशेष सत्र बुलाकर जनता की गाढ़ी कमाई को बर्बाद कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »