प्रदूषण नियंत्रण के लिए विशेष सत्र बुलाएँ केजरीवाल : मनोज तिवारी

wolf pokies San Jorge नगर संवाददाता
नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में लगातार तीसरे दिन भी प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक रहा। खराब हवा के चलते राजधानी में इमरजेंसी के हालात बना दिए हैं। हालात को देखते हुए प्रदूषण नियंत्रण के लिए बनायी गयी कमीटी ई.पी.सी.ए. ने दिल्ली-एनसीआर में कंस्ट्रक्शन पर बैन लगा दिया है । प्रदूषण फैलाने के आरोप में कई सरकारी और गैर सरकारी एजेंसियों को नोटिस भी जारी किये गये हैं। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए 2 दिन के लिए उद्योग पर भी बैन लगाया गया है।
बैन के आदेशों पर प्रतिक्रिया देते हुए दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण फिर खतरनाक स्तर पर है लेकिन केजरीवाल सत्ता के नशे में इतने मस्त हैं कि उन्हें हालात की गंभीरता समझ नहीं आ रही है। हवा इतनी जहरीली हो चली है कि इसमें सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है। प्रदूषण स्तर लगातार तीसरे दिन बेहद खतरनाक बना रहा लेकिन अभी तक दिल्ली भाजपा द्वारा बार-बार कहने पर भी मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल नही जागे। श्री तिवारी ने कहा कि हमने कई बार केजरीवाल जी से सर्वदलीय बैठक बुलाकर प्रदूषण के विषय को गंभीरता से लेने का आग्रह किया पर उन्होंने हमारी एक न सुनी।
श्री तिवारी ने कहा कि दिल्ली में स्कूलों और अस्पतालों की हालत खराब करने के बाद हरियाणा में राजनीतिक फायदे के लिए उसी का झूठा प्रचार करने में व्यस्त हैं केजरीवाल लेकिन दिल्ली में लोगों का सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है, जिसकी उन्हें कोई चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में अपनी तथाकथित उपलब्धियों जो वास्तव में विफलता है उसका ढोल पीटने के बजाये अगर केजरीवाल दिल्ली के लोगों की साँसों की चिंता करें तो उनको राहत मिल सकेगी।
मनोज तिवारी ने कहा कि इस समय न तो पटाखे जल रहे हैं न किसान पराली जला रहे हैं फिर भी दिल्ली का प्रदूषण स्तर लगातार गिर रहा है, यह दर्शाता है कि दिल्ली सरकार प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए कोई भी कदम नहीं उठा रही है । पिछले 4 वर्षों से दिल्ली का प्रदूषण जानलेवा होता चला गया और दिल्ली सरकार दूसरे राज्यों और किसानों पर आरोप लगाकर अपनी जिम्मेदारियों से भागती रही, जिसका खामियाजा आज दिल्ली की जनता भुगत रही है।
श्री तिवारी ने कहा कि सत्ता में आने से पूर्व केजरीवाल जी ने प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए अनेकों वायदे किये थे चाहे वो सड़कों की पीडब्ल्यूडी द्वारा मैकेनिकल सफाई हो, पानी का छिड़काव हो, वृक्षारोपण हो, निर्माण कार्य पर रोक हो, एयर पूरिफिएर लगवाने की बात हो, हर स्तर पर दिल्ली सरकार विफल रही है । उन्होंने कहा कि आज दिल्ली में जो यह भयावह स्थिति उत्पन्न हुई है इसके जिम्मेदार केजरीवाल खुद हैं। मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली भाजपा केजरीवाल सरकार से पुनः मांग करती है कि प्रदूषण के गंभीर मुद्दे को प्राथमिकता से लेते हुए इसके लिए भी विशेष सत्र एवं सर्वदलीय बैठक बुलाकर एयर क्वालिटी को सामान्य स्थिति पर लाने हेतु अतिशीघ्र यथोचित प्रयास किये जाएँ और उन्होंने प्रदूषण को लेकर जो वादे किये थे उसे भी निभाएं।
अंत में मनोज तिवारी ने दिल्ली की जनता से जरूरी काम होने पर ही बाहर निकलने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के सहारे रहे तो एक दिन जान से हाथ धोना पड़ेगा इसलिए हम खुद ये जिम्मेदारी लें और जितना हो सके ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगायें, कार पूलिंग कर ऑफिस जाएँ, सीएनजी गाड़ियों अथवा इलेक्ट्रिक गाड़ियों का प्रयोग करें, अपने आस पास का एरिया साफ रखें व धूल न जमने दें, पानी का छिडकाव करते रहें। उन्होंने व्यापारियों से भी आग्रह किया कि सी.एस.आर. के तहत ये हमारी नैतिक जिम्मेदारी भी बनती है कि हम प्रदूषण नियंत्रण के लिए खुद से जो हो सके वो उपाय करें और वातावरण को संरक्षित करें।

Leave a Reply

quarantine poker Chesham Your email address will not be published. Required fields are marked *

melhor site de namoro internacional Somalia

rencontre coquines sur chalon sur saone Wallsend

Translate »