स्मार्ट आवासीय परिसर निर्माण हेतु भूमि पूजन किया

नगर संवाददाता
नई दिल्ली।‘किसी भी संस्थान या विभाग का यह प्रथम और सर्वोपरी कर्त्तव्य और दायित्व है कि वह अपने कर्मचारियों को न केवल उनके कार्यालय परिसरों में बल्कि उनके रहने के लिए आवासीय परिसरों में भी बेहतर वातावरण और सुविधाओं को उपलब्ध करायें । नई दिल्ली नगरपालिका परिषद् का इस दिशा में किया गया यह स्मार्ट प्रयास है ।’
नई दिल्ली नगरपालिका परिषद् के उपाध्यक्ष करण सिंह तंवर ने यह बात आज नई दिल्ली नगरपालिका परिषद् द्वारा अपने कर्मचारियों के लिए साकेत में बनाए जाने वाले 120 टाइप-2 फलैटस् के स्मार्ट आवासीय परिसर का भूमि पूजन करते हुए कही ।
पालिका उपाध्यक्ष ने इस स्मार्ट आवासीय परिसर की विशेषताओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह परिसर सभी अत्याधुनिक स्मार्ट सुविधाओं से सुसज्जित होगा] जिसमें पर्यावरण अनुकूल सभी हरित भवन के दिशा निर्देशों का अनुसरण किया जायेगा, यहॉं सीवरेज जल शोधन और उसके दुबारा उपयोग के लिए भी संयंत्र लगाया जाएगा, सोलर-पैनल और बरसाती पानी के संचयन की भी व्यवस्था यहॉं की जाएगी । उन्होंने कहा कि इस स्मार्ट आवसीय परिसर में पर्याप्त पार्किंग व्यवस्था भूतल और भूमिगत तल पर उपलब्ध होगी और इस परिसर के सभी ब्लॉकों में आठ लोगों की क्षमता वाली लिफ्ट लगाई जाएगी ।
पालिका परिषद् उपाध्यक्ष ने यह भी कहा कि पालिका परिषद् को अक्षरशः ही नही अपितु भावना से भी इस प्रकार कार्य करना चाहिए कि नई दिल्ली नागरपालिका परिषद् का क्षेत्र नई दिल्ली देश के अन्य नगर-निकायों के लिए एक ऐसा उदाहरण बने जिसका अनुसरण सभी कर सके। उन्होंने कहा कि पालिका परिषद् अपने कर्मचारियों की आवासीय सुविधाओं की पूर्ति के लिए इस परिसर में 120 टाइप-2 प्रकार के फ्लैट बनाएगी] जिसमें 64 फ्लैटस् आठ मंजिला होगें जबकि 56 फ्लैटस् दो अन्य ब्लॅाकों में सात मंजिला बनाए जाएगें । यहॉं एक दुगूनी उचाई का सामुदायिक केन्द्र भूतल पर बनाया जाएगा। यह परिसर 41-45 करोड़ रूपयों की लागत से 24 महीने की अवधि में 6513 वर्क मीटर के भूक्षेत्र पर बनकर तैयार होगा । यह स्मार्ट परिसर भूकम्परोधी तकनीकों पर आधारित होगा ।
इस अवसर पर नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् के सदस्य सुरेन्द्र सिंह और बी.एस.भाटी, पालिका परिषद् सचिव एवं वित्तीय सलाहकार रामानंद भगत तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »