खास होंगी खजूरी खास की सड़कें : मनोज तिवारी

नगर संवाददाता
नई दिल्ली । दिल्ली भाजपा अध्यक्ष एवं उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने आज खजूरी खास थाने के आस-पास की सभी सड़कों एवं नालों के निर्माण कार्य का नारियल फोड़कर शुभारंभ किया। इस बाबत खजूरी खास थाने के सामने एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें डीडीए के कई अधिकारियों, भाजपा पदाधिकारियों सहित बड़ी संख्या में क्षेत्रीय निवासी उपस्थित हुए। कार्यक्रम का संचालन दिल्ली भाजपा मीडिया विभाग के सह प्रमुख श्री आनन्द त्रिवेदी ने किया।
सांसद मनोज तिवारी के प्रस्ताव पर दिल्ली विकास प्राधिकरण ने केंद्रीय सड़क अनुसंधान केंद्र की एक टीम को नियुक्त किया जिसने लगभग 8 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 1.2 किलोमीटर लंबाई वाली खजूरी खास की सड़कों का प्रस्ताव तैयार किया। ऑनलाइन टेंडर आमंत्रित किया गया, जिसमें सबसे कम बोली लगाने वाले ब्रिजेस एंड एसोसिएट्स को सड़कों का निर्माण कार्य करने का जिम्मा दिया गया है। सड़कों के दोनों ओर आर.सी.सी के बॉक्स टाइप नालों का निर्माण भी किया जाएगा और जरूरत पड़ने पर निर्माण राशि को भी बढ़ाया जाएगा।
इस अवसर पर उपस्थित क्षेत्र निवासियों को संबोधित करते हुए श्री मनोज तिवारी ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि मेरे चुनाव लड़ने से पूर्व बीते 10 वर्षों तक वीरान पड़ी इन सड़कों की किसी ने सुध नहीं ली। चुनाव के दौरान और चुनाव जीतने के बाद खजूरी खास की सड़कों का मामला स्थानीय लोगों ने मेरे तक पहुंचाया और विगत एक वर्ष से मैं निरंतर इस प्रयास में लगा हूँ कि खजूरी थाने के आस-पास की ऐसी सड़कों का निर्माण हो जो आगामी 10 वर्ष तक अटूट रहे हैं और आवागवन सुगम बने।
मनोज तिवारी ने कहा कि मैं दिल्ली विकास प्राधिकरण के अधिकारियों का आभारी हूँ कि उन्होंने मेरे प्रस्ताव को विशेष तकनीक का मजबूत आधार दिया और खजूरी खास में ऐसी खास सड़कें बनाने की योजना तैयार की जो आगामी कई वर्षों तक न सिर्फ अटूट रहेंगी बल्कि क्षेत्र निवासियों का आवागवन भी सुगम होगा। उन्होंने कहा कि यह पहला अवसर है जब करावल नगर क्षेत्र की सड़कें बनाने के लिए केंद्रीय सड़क अनुसंधान केन्द्र ने योजना तैयार की। लेकिन शीघ्र ही खजूरी पुस्ता रोड को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-9 का हिस्सा बनाने के लिए काम शुरू होगा जिसके बाद पुस्ता रोड पर जाम की समस्या बीते युग की बात हो जाएगी।
मनोज तिवारी ने कहा कि करावल नगर क्षेत्र घनी आबादी वाला क्षेत्र है, अपनी मेहनत और मजदूरी कर लोगों ने अपने घर बनाए। इस क्षेत्र के लाखों मतदाताओं ने दिल्ली की सरकारें बनाई, लेकिन उन लाखों मतदाताओं के लिए एक बड़े अरसे तक दिल्ली में राज करने वाली सरकारों ने बच्चों के खेलने के मैदान, पारंपरिक समारोहों के लिए समुदायिक भवन, वरिष्ठ नागरिकों के लिए स्वास्थ्य केंद्र जैसी मूलभूत सुविधाओं के केंद्र नहीं बनाये। उन्होने कहा कि मेरा संकल्प है कि 2022 तक करावल नगर क्षेत्र में मूलभूत सुविधा केन्द्र बनाने को आधार बनाकर क्षेत्र का विकास हो और उसके लिए केंद्र और दिल्ली में पंडित दीनदयाल उपाध्याय के मूल दर्शन अन्त्योदय पर काम करने वाली सरकारों का गठन जरूरी है।
इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक मोहन सिंह बिष्ट, जिला अध्यक्ष अजय महावर, विधायक श्री कपिल मिश्रा, पूर्वी दिल्ली नगर निगम में स्थाई समिति के अध्यक्ष मा. सत्यपाल सिंह, जोन चेयरमैन श्री प्रमोद गुप्ता निगम पार्षद श्रीमती नीता बिष्ट, श्रीमती सुषमा मिश्रा, पूर्व निगम पार्षद शैलेन्द्र सिंह, ओ.बी.सी. मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष डाॅ. यू के चैधरी, दिल्ली विकास प्राधिकरण के पूर्वी क्षेत्र के लिए मुख्य अभियंता श्री संजीव कुमार आर्य, अधिशासी अभियंता एम आर फारुखी, सहायक अभियंता के पी शर्मा, कनिष्ठ अभियंता श्री अनुज कुमार, मंडल अध्यक्ष श्री जे के शर्मा, जितेन्द्र कुमार राणा, राज कुमार झा, मास्टर सत कुमार, अनुपम पांडे सहित बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »