प्लास्टिक कचरा उत्पन्न करने वाली 100 इकाइयों को सील किया

नगर संवाददाता
नई दिल्ली । उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने पिछले कुछ दिनों में लगभग 100 इकाइयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए सील कर दिया। इन इकाइयों को टिकरी कलां, मुंडका, हिरनकुदना, नीलवाल,नांगलोई, कमरुद्दीन नगर, निलोठी, घेवरा, सवेधा और मदनपुर डबास के गांवों में सील किया गया जो की प्लास्टिक के कचरे के व्यापार और उस के उत्पादन से जुड़ी हुई थीं।
इस के अतिरिक्त उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने 9000 मीट्रिक टन से अधिक प्लास्टिक कचरे को उठाकर लगभग 983 बीघा भूमि को साफ किया और जिसे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट, नरेला-बवाना में प्रसंस्करण के लिए भेज दिया गया हैं।
उत्तरी दिल्ली नगर निगम प्रदूषण के प्रति बहुत संवेदनशील है। निगम द्वारा उन इकाइयों या व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है जिनके कार्य से प्रदूषण के स्तर को बढा़वा मिल रहा है और वे नियमों और विनियमों का पालन नहीं कर रहे हैं।
निगम ने निर्माण गतिविधि कर रहे व प्लास्टिक व्यापार में लगे सभी लोगों को नियमों का पालन करने और सीपीसीबी / ईपीसीए और किसी भी अन्य सरकारी एजेंसी द्वारा जारी नियमों और दिशा निर्देशों का पालन करने की सलाह दी है और साथ ही शहर के वातावरण को बनाए रखने के लिए बनाए गए प्रावधानों के अनुसार कचरे के विनियमित करने की भी सलाह दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »