टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने शुरू किया मुंबई का पहला ड्राइविंग स्कूल

नगर संवाददाता
नई दिल्ली। टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने आज मुंबई में टोयोटा ड्राइविंग स्कूल शुरू करने की घोषणा की। यह ड्राइविंग स्कूल ब्रांड के अपने डीलरशिप, लक्ज़ी टोयोटा में से एक द्वारा संचालित है। ड्राइविंग स्कूल कंपनी का मुंबई में पहला और पूरे भारत में 11 वां है। यह सड़क सुरक्षा की दिशा में टोयोटा के सबसे सुरक्षित कार के साथ सबसे सुरक्षित ड्राइवर मिशन का एक हिस्सा है। टोयोटा ड्राइविंग स्कूल के शुभारंभ में मुख्य अतिथि के तौर पर मुंबई स्थित अंधेरी के सहायक क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी हेमंत पाटिल मौजूद थे। भारत में सड़क सुरक्षा की संस्कृति को बेहतर बनाने के प्रयास में, टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने कोच्चि, लखनऊ, हैदराबाद (दो), चेन्नई (दो), कोलकाता, फरीदाबाद, विजयवाड़ा और सूरत में दस अन्य ड्राइविंग स्कूल शुरू किए हैं। टोयोटा ड्राइविंग स्कूल हर छात्र को एक जिम्मेदार और सुरक्षित ड्राइवर बनाने पर बहुत महत्व देता है।
स्कूल का पाठ्यक्रम एक व्यापक ड्राइवर-प्रशिक्षण कार्यक्रम होगा जिसमें ड्राइवर-सिम्युलेटर तंत्र जैसे उच्च गुणवत्ता वाले, व्यावहारिक और भविष्य के प्रशिक्षण मॉडल होंगे। यह पाठ्यक्रम यातायात प्रबंधन, नियम और अनुशासन, सुरक्षित और सही ड्राइविंग अवधारणाएं, एक ड्राइवर की शिष्टता और जिम्मेदारियां, सडक़ पर आने से पहले एक वास्तविक वाहन में ड्राइविंग का अनुकरण, सड़कों पर व्यावहारिक ड्राइविंग के सभी पहलू, आपातकालीन हैंडलिंग आदि कई विषयों को व्यापक रूप से कवर करेगा। शुरुआती ड्राइविंग स्कूल के मानक सीखने के पैकेज के लिए आप आवेदन कर सकते हैं लेकिन इसके अलावा, टोयोटा ड्राइविंग स्कूल अतिरिक्त शिक्षण मॉड्यूल के लचीलेपन की भी पेशकश करेगा, जिससे इसके छात्र अपनी पसंद का पाठ्यक्रम डिजाइन कर सकते हैं।
टोयोटा ड्राइविंग स्कूल देश में अपनी तरह का अकेला है। यहां प्रत्येक छात्र को जिम्मेदार और सुरक्षित बनाने पर सबसे ज्यादा महत्व दिया जाता है। पाठ्यक्रम एक व्यापक चालक प्रशिक्षण कार्यक्रम है जो उच्च गुणवत्ता का व्वाहारिक और भविष्य का प्रशिक्षण मॉडल है। जैसे ड्राइवर सिमुलेटर मैकनिज्म जिससे उम्मीद की जाती है कि यह “इटियॉस अनुभव” मुहैया कराएगा। इस अनुभव को जितना ज्यादा वास्तविक बनाना संभव हो उतना वास्तविक बनाने के लिए टोयोटा ने कई खासियतें शामिल की हैं जैसे इंस्ट्रूमेंट पैनल (आईपी), स्टीयरिंग और सीट डो वास्तविक इटियॉस कार की हैं।
इस नए टोयोटा ड्राइविंग स्कूल की शुरुआत के मौके पर पर अपने विचार रखते हुए अमर पवार, डीलर प्रिंसिपल लैकोजी टोयोटा ने कहा कि मुंबई में सड़क सुरक्षा में योगदान करने के लिए हमारे लिए टोयोटा किर्लोस्कर मोटर से जुड़ा होना और नागरिकों में वाहन चलाने की अच्छी आदतों को बढ़ावा देने की कोशिशों में सक्रिय भूमिका निभाना एक विशेष बात है। शहरी क्षेत्रों में बढ़ती आबादी और यातायात ने सड़क सुऱक्षा को कम कर दिया है। इससे सड़क दुर्घटनाएं बढ़ गई हैं। शहर में सड़क दुर्घटना की बढ़त संख्या एक ऐसा मुद्दा है जिसपर शीघ्र कार्रवाई किए जाने की आवश्यकता है। और अपने ड्राइविंग स्कूल से हम यह जिम्मेदारी लेते हैं कि नागरिकों को इस दिशा में शिक्षित किया जाए ताकि शून्य दुर्घटना के परम सुरक्षा मिशन को हासिल किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »