एनडीएमसी ने मनाया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् द्वारा समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान के लिए सामाजिक कार्यकत्र्ताओं, मीडियाकर्मियों, कॉर्पोरेट जगत की महिलाओं को एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में आयोजित एक भव्य समारोह में सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर पालिका परिषद् सचिव श्रीमती रश्मि सिंह ने कहा कि बालिकाओं के समग्र विकास को समर्पित अनेक योजनाएं परिषद् क्षेत्र में लागू की गई है, जिनमें 10 वर्ष तक की बालिकाओं को खेलों में प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से एक फुटबाल एकेडमी बनाया जाना महत्वपूर्ण कदम है ।
पालिका परिषद् सचिव ने बताया कि नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् अपने क्षेत्र में वैश्विक स्तर के मानदण्डों के अनुरूप शिक्षा, खेलकूद, कौशल-विकास, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, सामाजिक-कल्याण इत्यादि सेवाएं बालिकाओं से लेकर महिलाओं तक उपलब्ध कराने के लिए कृत-संकल्पित है। उन्होंने यह भी कहा है कि पालिका परिषद् ने अपने क्षेत्र में महिलाओं के लिए ऐसे विशेष स्मार्ट शौचालयों का निर्माण कराया है, जहां सैनेट्री नेपकिन वैंडिंग मशीनें भी लगाई गई है।
रश्मि सिंह ने इस अवसर पर सम्बोधित करते हुए कहा कि पालिका परिषद् और नवयुग विद्यालयों में 28 जगह 29 सेनेट्री नेपकिन वैंडिंग मशीनें लगाई गई है, जिससे बालिकाओं को व्यक्तिगत स्वच्छता और समग्र खुशहाली प्रदान की जा सके । यहां इन्हें ऐसे सेनेट्री नेपकिन मुफ्त में उपलब्ध कराये जा रहे है, जिनका वैज्ञानिक विधि से स्वच्छतापूर्वक निपटान यहीं पर करने के लिए निपटान गड्डे (कम्पोस्ट-पिट) भी बनाए गए है ।
पालिका परिषद् द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित किए गए विभिन्न कार्यक्रमों में आज महिलाओं के स्वास्थ्य और स्वच्छता, आर्थिक सशक्तिकरण, हमारी विरासत और संस्कृति के संबंध में व्याख्यान सत्र चलाये गये । इस अवसर पर एक प्रदर्शनी भी लगाई गई, जिसमें महिला तकनीकी संस्थान की छात्राओं द्वारा बनाए गए उत्पादों को प्रदर्शित किया गया तथा उनकी बिक्री भी की गई ।
इस कार्यक्रम में पालिका परिषद् की सदस्य डा. अनीता आर्य, मुख्य वास्तुविद श्रीमती नम्रता कलसी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी (परियोजना) डा. शकुंतला श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी (मुख्यालय) डा. गुंजन सहाय, डा. कीर्ति निदेशक (स्वास्थ्य सेवाएं) चरक पालिका अस्पताल, डा.कमलेश गुप्ता निदेशक(आयुष) तथा अनेक अध्यापक, छात्राएं, विभिन्न विभागों में कार्यरत महिलाऐं भी शामिल हुई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »