शिक्षकों के स्थानांतरण की ऑनलाइन प्रक्रिया का शुभारम्भ

नई दिल्ली। उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में पारदर्शिता लाने हेतु पहली बार शिक्षकों के स्थानांतरण की ऑनलाइन प्रक्रिया का शुभारम्भ किया गया। शिक्षकों को समर्पित ऑनलाइन स्थानांतरण मॉड्यूल का शुभारम्भ उत्तरी दिल्ली के महापौर आदेश कुमार गुप्ता द्वारा निगम मुख्यालय, डॉ. एसपीएम सिविक सेंटर स्थित सत्य नारायण बंसल सभागार में किया गया। इस दौरान स्थायी समिति की अध्यक्षा सुश्री विना विरमानी, शिक्षा समिति की अध्यक्ष ऋतु गोयल, अतिरिक्त आयुक्त (शिक्षा) आर.एस. मीणा, निदेशक (शिक्षा) मिलींद डुंबेरे और निगम के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महापौर आदेश गुप्ता ने कहा कि शिक्षा विभाग की इस पहल से पारदर्शिता बढ़ेगी और शिक्षकों को स्थानांतरण के लिए इधर-उधर नहीं घूमना पड़ेगा। इससे भी अधिक, इस पहले से स्थानांतरण में मानवीय दखल कम होगा और उत्पीड़न की आशंका खत्म होगी।
महापौर ने कहा कि यह बेहद खुशी की बात है कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया अभियान को आगे बढ़ा रहे हैं। हमने पहले भी निगम की कई सुविधाओं को ऑनलाइन बनाया है और इससे निगम की कार्यशैली में सुधार हो रहा है और विसंगतियां भी कम हो रही हैं।
शिक्षा समिति की अध्यक्ष, सुश्री ऋतु गोयल ने बताया कि इस ऑनलाइन स्थानांतरण मॉड्यूल द्वारा शिक्षकों के स्थानांतरण प्रक्रिया को पूरी तरह कंप्यूटरीकृत बनाया गया है। इसमें शिक्षक ऑनलाइन अपनी प्राथमिकता के मुताबिक अधिकतम 5 स्कूलों का चयन कर सकेंगे और कंप्यूटर स्वतः ही रिक्त पदों के अनुसार ‘पहले आओ-पहले पाओ’ के आधार पर स्कूल आवंटित कर देगा। यह मॉड्यूल शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 के दिशा-निर्देशों के अनुरूप है। सुश्री गोयल ने बताया कि विभिन्न स्कूलों में रिक्त पदों को भी ऑनलाइन ही देखा जा सकेगा और स्थानांतरण के आदेश भी ऑनलाइन जारी होंगे। स्थानांतरण प्रक्रिया वर्ष में एक बार नए सत्र के शुरू होने के समय प्रारंभ होगी। स्थानांतरण में स्वास्थ्य संबंधी परिस्थितियों और दिव्यांगों को विशेष प्राथमिकता दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »