नौसेना स्थापना समारोह-2019 का आयोजन

नई दिल्ली । नौसेना स्थापना समारोह-2019 का आयोजन पश्चिमी नौसेना कमान के नौसेना हेलिकॉप्टर बेस आईएनएस शिक्रा पर हुआ।
नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा पीवीएसएम, एवीएसएम, एडीसी ने राष्ट्रपति की ओर से बहादुर सैन्यकर्मियों को वीरता और अन्य पुरस्कार प्रदान किए, जो गणतंत्र दिवस के अवसर पर घोषित किए गए थे। नौसेना प्रमुख ने नौसेना इकाइयों को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किए। समारोह में भारतीय नौसेना के वरिष्ठ अधिकारी और पुरस्कार विजेताओं के परिजन शामिल हुए।
स्थापना समारोह के अवसर पर 50 सैन्यकर्मियों के एक दल ने गार्ड ऑफ ऑर्नर परेड किया। एडमिरल सुनील लांबा ने गार्ड ऑफ ऑर्नर परेड का निरीक्षण किया।
नौसेना प्रमुख ने विजेताओं को पदक, प्रशस्ति पत्र और सीएनएस ट्रॉफी भी प्रदान किए। इन विजेताओं ने पर्यावरण अनुकूल कार्यक्रमों में विशिष्ट प्रदर्शन किया था। 45 पदकों में 18 नौसेना पदक, ड्यूटी के प्रति समर्पण के लिए 9 नौसेना पदक, 16 विशिष्ट सेवा पदक, उड़ान सुरक्षा के लिए कैप्टन रविधीर मेमोरियल गोल्ड मेडल और नौसेना तकनीक में उत्कृष्ट शोध के लिए लेफ्टिनेंट वी.के. जैन मेमोरियल गोल्ड मेडल शामिल हैं।
नौसेना प्रमुख ने आईएनएस त्रिशूल, आईएनएस सह्याद्री, आईएनएएस 322 और आईएनएस तारासा (समुद्र) तथा एनएसआरवाई (कोच्चि), आईएनएस उत्क्रोश, आईएनएचएच कल्याणी और मैटिरियल ऑर्गनाइजेशन (मुम्बई) (तट) को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। नौसेना डॉकयार्ड (वाईजेग) और आईएनएस द्वारिका को पर्यावरण अनुकूल अभ्यासों के लिए सीएनएस ट्रॉफी से सम्मानित किया गया।
अपने संबोधन में एडमिरल लांबा ने कहा कि इस अवसर का विशेष महत्व है क्योंकि यह वीरता, ड्यूटी के प्रति समर्पण जैसे कार्यों को स्वीकृति प्रदान करता है। उन्होंने पुरस्कार विजेताओं के परिजनों को धन्यवाद देते हुए कहा कि उनके सहयोग से ही सैन्यकर्मी बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित होते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »