दयानंद वत्स के सानिध्य में चुनाव घोषणा पत्र जारी

नई दिल्ली। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया(ए) दिल्ली प्रदेश द्वारा 11, सफदरजंग रोड, नई दिल्ली में दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मिर्जा मेहताब बेग की अध्यक्षता एवं उपाध्यक्ष, प्रवक्ता एवं पश्चिमी दिल्ली से.लोकसभा के प्रत्याशी शिक्षाविद् दयानंद वत्स के सानिध्य में आज लोकसभा चुनाव में दिल्ली के लिए अपना चुनाव घोषणा पत्र जारी किया। दिल्ली प्रदेश प्रवक्ता और पश्चिमी दिल्ली से उम्मीदवार दयानंद वत्स के अनुसार वे पश्चिमी दिल्ली को आदर्श लोकसभा क्षेत्र बनाने के लिए परिवहन, शिक्षा, समाज कल्याण, महिलाओं की सुरक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाएगी। मैट्रो का विस्तार नजफगढ से ढांंसा बार्डर, द्वारका से साइबर सिटी गुरुग्राम तथा रिठाला से बवखना, नरेला और समयपुर बादली से कुंडली टीडीआई तक व अन्य ग्रामीण क्षेत्रों तक किया जाएगा। केंद्रीय विद्यालयों और सीजीइएचएस डिस्पेंसरियों की संख्या बढाई जाएगी।बेटियों की पीएचडी तक की शिक्षा निशुल्क कराई जाएगी। दिल्ली में पालिसी बनाकर सभी ठेकेदारी और अनुबंध के आधार पर रखे सभी कर्मचारियों और अतिथि शिक्षकों के स्थायी रोजगार दिया जाएगा। सभी महिलाओं को 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा और गृहणियों और युवा बेरोजगारों को 2 हजार रुपए का मासिक भत्ता दिया जाएगा। आंगनवाड़ी कर्मचारियों का वेतन दुगना किया जाएगा। डीटीसी में कार्यरत सभी कर्मचारियों को स्थायी कराया जाएगा और उन्हें हैवी मोटर का वेतनमान दिलाया जाएगा। स्वास्थ्य सेवाएं सभी के लिए उनके निकट दी जाएंगी। सभी को शुद्ध जल एवं शुद्ध हवा उपलब्ध कराई जाएगी। सडकों का कायाकल्प होगा। डीटीसी के सभी बस स्टापों के शैड नये सिरे से बनवाए जांएगे। क्षेत्र में कानून व्यवस्था सनिश्चित कराई जाएगी। खेलों के लिए खेल परिसरों का निर्माण और अन्य सभी सुविधाएं दी जाएंगी। दिल्ली विश्वविद्यालय का पश्चिमी दिल्ली कैंपस बनवाया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों ,अनधिकृत बस्तियों में सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराई.जांएगी। स्कूल और कालेज के छात्रो, वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं को डीटीसी, कलस्टर और.मैट्रो में निशुल्क यात्रा की सुविधाएं दी जाएंगी। सभी स्कूली और कालेज छात्रों को लैपटॉप दिया जाएगा। राजौरी गार्डन से.नजफगढ तक का मार्ग जाम मुक्त कराया जाएगा। फल, सब्जी, रेहड़ी पटरी वालों का सम्मान जनक पुनर्वास कराया जाएगा। सभी असंगठित क्षेत्र के ड्राईवरों, गार्ड और घरों में काम करने वाली महिलाओं को न्यूनतम वेतन 30 हजार कराया जाएगा। पब्लिक स्कूल में पढ रहे एक ही परिवार के दो छात्रों को प्रतिमाह दो हजार रुपए की सबसिडी दी जाएगी। पब्लिक स्कूलों की स्वायत्तता बहाल.की जाएगी। उच्च गुणवत्ता वाले बजट स्कूल खोले जाएंगे। छात्राओं के लिए महिला महाविद्यालय खोले जांएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »