केजरीवाल के चुनाव प्रचार करने पर प्रतिबंध लगाया जाये : विजेन्द्र गुप्ता

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने प्रदेश कार्यालय पर आम आदमी पार्टी द्वारा इमामों के वेतन की घोषणा करके मुस्लिम तुष्टिकरण करने, सरकारी धन का दुरूपयोग करने, दिल्ली में लागू आदर्श आचार संहिता का बार-बार उल्लघंन करने, झुग्गी झोपड़ी को नोट के बदले वोट खरीदने के लालच को लेकर, चुनाव आयोग द्वारा इस मुद्दे पर बार-बार नोटिस देने पर जवाब न देने पर संयुक्त प्रेस वार्ता की। इस प्रेस वार्ता में प्रदेश महामंत्री रविन्द्र गुप्ता, पूर्व विधायक सुभाष सचदेवा एवं मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।
नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने कहा चुनाव आयोग के नोटिस का भी अरविंद केजरीवाल जवाब नही दे रहे हैं। क्योंकि उनका संवैधानिक संस्थाओं में विश्वास नहीं है। चुनाव आयोग ने उन्हें दोबारा नोटिस भेजा है जिस की समय सीमा आज समाप्त हो जाएगी। श्री गुप्ता ने चुनाव आयोग में भी इसकी शिकायत की गई है फिर भी केजरीवाल कोई जवाब नहीं दे रहे हैं, उल्टे आदर्श आचार संहिता का बार-बार उल्लघंन कर रहे हैं। चुनाव आयोग ने आदर्श आचार संहिता का पालन न करने पर तमाम बड़े नेताओं पर कार्रवाई की है तो क्या कारण है कि अरविन्द केजरीवाल लगातार आयोग की अवहेलना कर रहे हैं, लेकिन उनके ऊपर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।
विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल झुग्गी झोपड़ियों में पर्चे बांटकर लगातार बोल रहे हैं कि चुनाव से पहले पैसा मिलेगा, पैसा ले लेना और वोट आम आदमी पार्टी को ही देना। इसका मतलब साफ है कि केजरीवाल चुनाव से पहले मतदाताओं को पैसा देकर अपने पक्ष में लाना चाहते हैं और वह इस बात का संकेत दे रहे हैं कि हमारी तरफ से मतदाताओं को पैसा दिया जाएगा। इस मुद्दे पर दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने केजरीवाल को दो बार नोटिस कर के स्पष्टीकरण मांगा है। केजरीवाल स्पष्टीकरण देने की बजाय दोबारा झुग्गियों में जाकर और अधिक मात्रा में यही काम कर रहे हैं। पंपलेट बांटकर चुनाव आयोग धता बता रहे हैं।
श्री गुप्ता ने कहा कि दिल्ली के मस्जिदों के इमामों का वेतन बढ़ा कर केजरीवाल मुस्लिम वर्ग विशेष को लाभ पहुंचा रहे है जो कि बहुसंख्यक समाज की अवेहलना है। उन्हांने कहा है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल द्वारा वित्त मंत्री कैलाश गहलोत तथा ओखला के विधायक अमानुतुल्लाह के साथ मिलकर एक अपराधिक साजिश के तहत वेतन बढ़ाने के नाम पर इमामों तथा मोइज्जानों को करोड़ों रूपए बांटकर दिल्ली में लोकसभा के चुनावों को प्रभावित करने का काम किया गया है। ऐसा करना न केवल आदर्श चुनाव आचार संहिता का खुला उल्लंघन है बल्कि कर दाताओं के पैसों का बेवजह दुरूपयोग है। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने आज चुनाव आयोग को पत्र लिखकर अरविन्द केजरीवाल लगातार आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई करने के दिशा निर्देश मांगे हैं।
विजेन्द्र गुप्ता ने चुनाव आयोग में विश्वास जताते हुये कहा कि केजरीवाल पर चुनाव प्रचार करने पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिये। यदि आयोग सख्त कार्रवाई नहीं करता तो हम न्यायालय का दबाजा खटखटायेंगे। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने आज चुनाव आयोग को पत्र लिखकर केजरीवाल के खिलाफ कार्रवाई करने के दिशा निर्देश मांगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »