अपनी पहचान पर गौरव करने वाला राष्ट्र ही लंबी यात्रा कर सकता है : योगी आदित्यनाथ

नई दिल्ली । भारत माता की जय और वंदे मातरम के जयघोष के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट के प्रत्याशी प्रवेश साहिब वर्मा के समर्थन में महारैली की और फिर से एक बार मोदी सरकार का संकल्प लिया गया। रैली को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रिस्क लेना हमारी आदत का हिस्सा है। इसलिए हमने बंगाल में भी रिस्क लिया और ममता को चुनौती दी। हमने यूपी में रिस्क लिया, हमने वहां देशद्रोही तत्वो को, अपराधियों को, माफियाओं को सबक सिखाया और साफ बताया कि ये मोदी जी सरकार है, छेड़ोगे तो छोड़ेगे नहीं। साथियों मैं आपको बता दूं कि हम फिर से बंगाल जाएंगे और सुरक्षित आएंगे और आपको ये संदेश देंगे कि आपका कोई बाल बांका नहीं कर पाएगा। रैली में लोकसभा प्रभारी अभय वर्मा, जिलाध्यक्ष सुमन कुमार शर्मा एवं रमेश खन्ना सहित जिला पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष, निगम पार्षद आदि सम्मिलित हुये।
श्री योगी आदित्नाथ ने कहा कि मोदी-मोदी की ये गूंज अचानक नहीं आई है। साल 2014 में तो केवल नाम था। अब काम भी है। मोदी जी ने हर स्तर पर भारत की पहचान बनाई है। भारतीय संस्कृति को वैश्विक पहचान दिलाई है। योग को वैश्विक कार्यक्रम का दर्जा दिलाया है। कुंभ को यूनेस्को से विश्व धरोहर की मान्यता दिलाई है। मोदी जी कहीं भी जाते हैं, किसी भी राष्ट्राध्यक्ष से मिलते हैं। श्रीमद भगवद गीता भेंट करते हैं, क्योंकि यह हमारी राष्ट्रीय पहचान है। अपनी इस पहचान पर गौरव करने वाला राष्ट्र ही लंबी यात्रा कर सकता है और मोदी जी में वो काबिलियत है।
श्री योगी ने रैली में कांग्रेस पर भी हमला बोला और कहा कि मोदी जी की पहल पर यूएन सिक्योरिटी काउंसिल ने आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया और सिद्ध किया कि मोदी है तो मुमकिन है। यह पूरे देश के लिए खुशी की बात हुई लेकिन कांग्रेस को यह बात बूरी लगी। कांग्रेस मोदी जी को बधाई न देती कोई बात नहीं थी, पर देश वासियों को तो बधाई देना था। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। इस बात से हमारी वह आशंका सही साबित हुई कि जो कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कही थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब देश के लिए बोझ बन चूकी है। किसी भी अच्छे कार्य के लिए सराहना नहीं है। उसे वैश्विक मंच पर भारत को यह रूतबा मिलना बूरा लग गया। इसलिए जब हमारी सेना ने एयर स्ट्राइक किया तब उन्होंने सबूत मांगा। मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि क्या आतंक को मारना व्यक्ति की लड़ाई है? यह देश की लड़ाई है, लेकिन कांग्रेस ने पाकिस्तान की बोली बोला।
श्री योगी ने कहा कि इसे राहुल गांधी का भी दोष नहीं है। उन्हें उनके लोग जितना कहते हैं बोलने के लिए वे उतना ही बोलते हैं। गांधी जी ने आजादी के बाद कहा था कांग्रेस को समाप्त कर दो, क्योंकि इसका दुरपयोग न हो। लेकिन उस समय के कांग्रेस के नेताओं ने ऐसा नहीं किया। पर राहुल जी गांधी जी के सपनो को साकार करेंगे। इसलिए राहुल जहां भी जाते हैं। कांग्रेस की हार तय करके आते हैं।
श्री योगी ने अपने संबोधन में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी याद किया और कहा कि दिल्ली को विश्व की सबसे अच्छी राजनाधी बनाने के लिए अटल जी ने जो प्रयास शुरू किए थे उसमें पहले कांग्रेस ने बाधा उत्पन्न किया और अब आम आदमी पार्टी कर रही है। इसलिए मैं कहना चाहता हूं कि उस बाधा को हटाने का एक अवसर आपके पास आया है। लोकतंत्र का यह महापर्व आया है। इसलिए कमल के निशान पर वोट डालें क्योंकि कमल के निशान पर पड़ने वाला वोट प्रवेश वर्मा को जीताएगा और प्रवेश वर्मा को मिलने वाला एक-एक वोट मोदी जी को मजबूत करेगा।
रैली को संबोधित करते हुए पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट के प्रत्याशी प्रवेश साहिब वर्मा ने कहा कि जिस तरह आज पश्चिम बंगाल में ममता दीदी लोकतंत्र की हत्या कर रही हैं। उसे देखते हुए योगी जी को भी वहां का मुख्यमंत्री होना चाहिए। इधर दिल्ली में भी केजरीवाल दिल्ली की जनता के लिए सर दर्द बन चुके हैं। यहां केजरीवाल सरकार की गुंडागर्दी चलती है। लेकिन यकीन मानिए इस लोकसभा चुनाव के साथ-साथ विधानसभा चुनाव में दिल्ली की जनता वो गुंडागर्दी भी खत्म कर देगी। क्योंकि दिल्ली के लोग अब केजरीवाल की हकीकत जान चुके हैं।
श्री वर्मा ने प्रयागराज के वैश्विक कुंभ के लिए सफलता पूर्वक संपन्न कराने को लेकर भी योगी जी को बधाई दिया और कहा कि कुम्भ में 16 करोड़ लोगों की हमारे जी ने जिस प्रकार से भव्य स्वागत किया उसके लिए दिल्ली की जनता की ओर से हम उनका आभार प्रकट करते हैं। उन्होंने आतंकवाद पर भी अपनी बात रखी और कहा कि इस देश में आतंकवाद खत्म हुआ इसका सबसे बड़ा श्रेय जनता को जाता है, जिन्होंने 2014 में कमल के निशान पर बटन दबा कर भाजपा को वोट किया। इसलिए जनता ने एक बार फिर से मोदी जी को देश का प्रधानमंत्री बनाने का मन लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »