पीएम नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली किया ‘गरवी गुजरात भवन’ का उद्घाटन

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली में गुजरात सरकार के दूसरे प्रदेश भवन ‘‘गरवी गुजरात ’’ का उद्घाटन किया और कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में स्थित हर राज्य के प्रदेश भवन सिर्फ गेस्ट हाउस न बनें बल्कि अपने राज्यों के ब्रांड के प्रतिनिधि, देश-दुनिया से संवाद के स्थल तथा पर्यटन एवं कारोबार के केंद्र बनें।

गुजरात के दूसरे प्रदेश भवन के उद्घाटन के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी के साथ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल एवं पूर्व मुख्यमंत्री एवं उत्तर प्रदेश की वर्तमान राज्यपाल आनंदी बेन पटेल मौजूद थीं। यह भवन अकबर रोड पर 7000 वर्ग मीटर क्षेत्र में है और पारिस्थितकी अनुकूल है। इस पर 131 करोड़ रुपये की लागत आई है।

प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर कहा, ‘‘भारत के अलग-अलग राज्यों की सांस्कृतिक, सामाजिक और आर्थिक ताकत ही उसे महान बनाती है, ताकतवर बनाती है। लिहाजा देश के हर हिस्से, हर राज्य की ताकत को, शक्तियों को पहचानकर हमें आगे बढ़ना है। उनको नेशनल और ग्लोबल स्टेज पर अवसर देना है।’’

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर और लेह-लद्दाख से लेकर नॉर्थ ईस्ट तक, विंध्य के आदिवासी अंचलों से लेकर दक्षिण के समुद्री विस्तार तक, हमारे पास देश के साथ साझा करने और दुनिया को पेश करने के लिए बहुत कुछ है। अब हमें इसको प्रमोट करने के लिए अपनी सक्रियता बढ़ानी होगी।

पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में हर राज्य के प्रदेश सदन हैं। यह ध्यान रखना चाहिए कि ये भवन सिर्फ गेस्ट हाउस न बनें। उन्होंने कहा कि ये राज्यों के ब्रांड के प्रतिनिधि बनें। ये देश दुनिया से संवाद का स्थल बनें। ये पर्यटन एवं कारोबार का केंद्र बनें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कई प्रदेश ऐसे हैं जो राष्ट्रीय राजधानी से दूर हैं। ऐसे में ये सदन प्रदेशों की संस्कृति, कारोबार, कला को प्रदर्शित करने के केंद्र बन सकते हैं। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने एक बार इस्तेमाल में लाई जाने वाली प्लास्टिक से देश को मुक्त बनाने की पहल में सभी से योगदान देने की अपील की।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ने मिलकर नर्मदा डैम की अड़चन दूर की है। समस्या का समाधान होते ही नर्मदा का पानी गुजरात के अनेक गांवों की प्यास बुझा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे खुशी है कि जल संचयन हो या गांव-गांव जल पहुंचाने का अभियान, गुजरात अच्छा काम कर रहा है। ऐसे ही प्रयासों से हम 2024 तक हर घर जल पहुंचाने में सफल होंगे, इसका मुझे पूरा विश्वास है।’’

गरवी गुजरात के संदर्भ में मोदी ने कहा कि ये सदन भले ही मिनी गुजरात का मॉडल हो, लेकिन ये न्यू इंडिया की उस सोच का भी प्रत्यक्ष प्रमाण है, जिसमें हम अपनी सांस्कृतिक विरासत को, हमारी परंपराओं को आधुनिकता से जोड़कर आगे बढ़ने की बात करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे खुशी है कि समय पर प्रोजेक्ट पूरा करने की आदत सरकारी संस्थाओं और सरकारी एजेंसियों में विकसित हो रही है।’’ मोदी ने कहा कि जब वे गुजरात के मुख्यमंत्री थे तो डंके की चोट पर कहता थे कि जिसका शिलान्यास वे करते हैं उसका उद्घाटन भी करते हैं।

उन्होंने उम्मीद जतायी कि नए सदन में गुजरात में निवेश आकर्षित करने के लिए, गुजरात में उद्योगों के लिए, एक अहम सेंटर बने इसके लिए नई व्यवस्थाएं की गई हैं। मोदी ने कहा कि ये सदन गुजरात के हस्तशिल्प के लिए और हेरिटेज टूरिज्म के लिए अहम सिद्ध हो सकता है। ये इमारत इको फ्रेंडली है और इनमें वॉटर हार्वेस्टिंग की भी व्यवस्था है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »