नई दिल्ली क्षेत्र में जलजनित रोगों की संख्या में कमी आई : रश्मि सिंह

नई दिल्ली। नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् के स्वास्थ्य विभाग द्वारा किये गये सतत् प्रयासों के परिणाम स्वरूप पिछले दो वर्षों की तुलना में इस वर्ष जलजनित रोगों की संख्या में विचारणीय कमी आयी है।
यह बात नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् की सचिव श्रीमती रश्मि सिंह ने नई दिल्ली क्षेत्र में जलजनित रोगों की रोकथाम की स्थिति की समीक्षा करने के उपरान्त बताई ।
सचिव-पालिका परिषद् ने कहा कि जलजनित रोगों से संबंधित नई दिल्ली की तीन साल की तुलनात्मक रिपोर्ट से यह स्पष्ट हुआ है कि इस साल अभी तक नई दिल्ली क्षेत्र में केवल तीन ही डेंगू के मामले सामने आये है जो पिछले दो वर्षों की तुलना में बहुत अधिक कम है जबकि इसी वर्ष के इसी दौरान 2017 में 61 और 2018 में 09 मामले पाये गये थें।
उन्होंने कहा कि जहां तक मलेरिया और चिकुनगुनिया जैसे रोगों की स्थिति का संबंध है, उनमें भी अत्याधिक कमी आयी है। इस वर्ष अभी तक 24 मलेरिया के मामले पाये गये है जबकि यह संख्या 2017 में 41 और 2018 में 31 थी और चिकुनगुनिया का नई दिल्ली क्षेत्र में अभी तक केवल एक मामला ही सामने आया है।
श्रीमती सिंह ने बताया कि 2017 में जहां 291 चालान करने पड़े थे वहीं अब तक इस साल केवल 74 चालान ही करने पड़े है।
पालिका परिषद् के स्वास्थ्य विभाग द्वारा किये जा रहे प्रयासों की जानकारी से अवगत कराते हुए पालिका परिषद् श्रीमती सिंह ने कहा कि जलजनित रोगों की रोकथाम के प्रति नई दिल्ली क्षेत्र के निवासियों और आगुन्तकों को जागरूक करने के उद्देश्य से स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्कूलों, कॉलेजों, मार्किटों, आवासीय परिसरों, अस्पतालों, प्राईवेट एवं सरकारी ईमारतों तथा सार्वजनिक स्थलों पर जागरूकता अभियान चलाये जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »