भाजपा व आप पार्टी अनाधिकृत कालोनियों, गांव व पुर्नवास कालोनियों की दुश्मन हैं : सुभाष चोपड़ा

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री सुभाष चोपड़ा ने भाजपा व आम आदमी पार्टी के खिलाफ सीधा हमला बोलते हुए कहा कि दोनो दल दिल्ली की अनाधिकृत कालोनियों, गांव व पुर्नवास कालोनियों के दुश्मन है, ग्रामीण गांव व शहरीकृत गांव तथा पुर्नवास कालोनियों में अभी हाल ही में दिल्ली सरकार की सहमति से भाजपा के नेतृत्व वाली निगमों द्वारा उन पर गृहकर लगाना यह साबित करता है। उन्होंने कहा कि सुविधाओं के नाम पर दिल्ली सरकार व निगम इन्हें कुछ नही दे रही है। वहीं इनसे भारी भरकम गृहकर वसूलने के नोटिस जारी करना पूरी तरह ज्यादती है।
श्री चोपड़ा आज आर्थिक मंदी व राजधानी की दुर्दशा को लेकर भाजपा व आप पार्टी के खिलाफ कांग्रेस की रोहिणी जिले के जहांगीर पुरी सीडी ब्लाक में आयोजित जन आक्रोश रैली व धरने में शामिल हजारों लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। रैली का आयोजन जिला अध्यक्ष श्री इंन्द्रजीत सिंह कर रहे थे, इसके अलावा रैली को वरिष्ठ कांग्रेस नेता सर्व श्री कीर्ति आजाद, मुकेश शर्मा, अनिल भारद्वाज, देवेन्द्र यादव ने भी सम्बोधित किया।
जहांगीर पुरी पुर्नवासित कालोनी में आयोजित इस रैली में आर्थिक मंदी की मार झेल रहे नौजवान भारी संख्या में शामिल थे। रैली में मोदी सरकार व केजरीवाल सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी हुई। समस्त क्षेत्र को तिरंगे झंडों से पाट दिया गया था। दिल्ली कांग्रेस के आक्रामक रवैये से परिचित पुलिस ने समस्त क्षेत्र को किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए पुलिस छावनी में तबदील कर दिया था।
सुभाष चोपड़ा ने आर्थिक मंदी के लिए जिम्मेदार मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सबसे बुरी दशा आज किसानों की है । खरीफ मौसम में खरीफ फसलों का मूल्यो 8 प्रतिशत से 37 प्रतिशत तक नीचे जा चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि तुअर, मूंग, उड़द, सोयाबीन, सूरजमुखी, काला तिल, ज्वार, बाजरा, रागी उगाने वाले करोड़ों किसानों को अपनी फसलों का समर्थन मूल्य तक नही मिल है। यहां तक कि धान के किसानों को भी नमी आदि के बहाने से 1835 रुपये प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य से 200 रुपये प्रति क्विंटल कम मूल्य मिला। अकेले इससे खरीफ के मौसम में किसानों को लगभग 50,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।
कीर्ति आजाद, मुकेश शर्मा, अनिल भारद्वाज व देवेन्द्र यादव ने इस मौके पर कहा कि दिल्ली की अनाधिकृत कालोनियों के नियमन संबधी अधिसूचना की धारा 7ए की चपैट में 900 से अधिक कालोनियां आ रही है। इन कालोनियों के निवासी न केवल भयभीत है बल्कि आज उनको अपने मकान तोड़े जाने का डर सता रहा है। नेताओं ने कहा कि भाजपा व दिल्ली सरकार की मिलीभगत से आज लाखों लोगों का भविष्य अंधकारमय हो गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि जहां एक ओर दिल्ली का चहुॅमुखी विकास रुका है, वहीं दूसरी ओर अनाधिकृत कालोनियों की स्थिति बहुत दयनीय है। सड़के टूटी पड़ी है, जनता दूषित पानी और दूषित हवा को झेल रही है।
कीर्ति आजाद और श्री मुकेश शर्मा ने भाजपा व केजरीवाल सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि चुनाव से ठीक दो महीने पहले अपनी संभावित हार से डर कर चुनावी घोषणाओं की झडी लगाकर जनता के उपहास का कारण बन रहे है। उन्होंने पूछा कि दोनो दल यह बताऐ कि वो पिछले 5 साल से क्या कर रहे थे? उन्होंने इस बात पर भी आश्चर्य व्यक्त किया कि सभी घोषणाओं की अमल सीमा 6 महीने क्यों रखी जा रही है। श्री आजाद व श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस न केवल आक्रामक है बल्कि आगामी विधानसभा चुनाव के नतीजे चौकाने वाले होंगें।
रैली में पूर्व विधायक जसवंत राणा, चरण सिंह कंडेरा, प्रवीण भुगरा, अजीत यादव, जगदीश यादव, पूनम बागड़ी, अश्विनी बागड़ी, ओ पी रांगा, सावित्री तोमर, राजकुमारी गुप्ता, सुधीर पारचा, गोपाल ठाकुर, निशा यादव, गोपाल चौहान, आनन्द लोचव, नाजिम, राजन तुषामार सहित सभी ब्लाक अध्यक्ष व महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस और सेवादल के कार्यकर्ता भारी संख्या में मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »