भाजपा ने विकास नगर में किया गया जनसभा का आयोजन

नई दिल्ली । दिल्ली की 1731 अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने के ऐतिहासिक निर्णय के बाद भाजपा दिल्ली के अलग अलग हिस्सों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद करने के लिए जनसभाओं का आयोजन कर रही है। इसी कड़ी में आज बाला जी चैक विकास नगर में एक विशाल जनसभा का आयोजन किया गया जिसको दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी एवं प्रदेश महामंत्री रविन्द्र गुप्ता ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर मीडिया सह-प्रभारी नीलकांत बक्शी, जिलाध्यक्ष सुमन प्रकाश शर्मा सहित जिला एवं मण्डल के पदाधिकारी, निगम पार्षद एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता व कार्यकर्ता उपस्थित थे।
उपस्थित जनसभा को सम्बोधित करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों में रह रहे 40 लाख से अधिक लोगों के जीवन स्तर को सुधारने व सभी लोगों को उनके घर का मालिकाना हक देने के लिए महज 100 दिन के भीतर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुये अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित किया। केन्द्र सरकार के प्रयासों से इन अनधिकृत कॉलोनियों में 16 दिसम्बर से रजिस्ट्रेशन शुरू हो रहा है, जल्द ही लोगों को उनके घर का मालिकान हक मिलने लगेगा। कॉलोनियों में रह रहे 40 लाख से अधिक लोग इस निर्णय के लिए मोदी जी का धन्यवाद कर रहे है। जनता जाग चुकी है, देश बदल रहा है, जनता के बीच संदेश स्पष्ट है कि भाजपा ने जो कहा है वो किया है। नामुमकिन कुछ भी नहीं हैं, कश्मीर से सम्बन्धित अनुच्छेद 370 को समाप्त किया, राम मन्दिर पर ऐतिहासिक निर्णय आया, तीन तलाक बिल पास हुआ, अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करना और नागरिक संशोधन बिल को पास करना है। यह सब काम बाकी दलों के लिए नामुमुकिन थे, लेकिन भाजपा के शीर्ष नेतृत्व प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी है तो सब कुछ मुमकिन है।
श्री तिवारी ने कहा कि अनधिकृत कॉलोनियों में रह रहे लोग जो नरक जैसी यातनाएं झेलने को विवश थे। उन्होनें तत्कालीन कांग्रेस की सरकार से कॉलोनियों को नियमित कर सुविधाएं देने की सैकड़ों बार गुहार लगाई लेकिन कांग्रेस ने 15 साल केवल जनता को भटकाया। आम आदमी पार्टी जो इस मुद्दे पर राजनीति कर सत्ता में आई उसने 5 साल जनता को लटकाया और झूठ बोलकर भ्रम की स्थिति पैदा की। काम करने के लक्ष्य के साथ हम दिल्ली को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने में लगे है लेकिन आम आदमी पार्टी का पूरा कुनबा जनता को महंगे विज्ञापनों के माध्यम से यह दिखाने का प्रयास कर रहा है कि दिल्ली में काम हो रहा है। सातों सांसद दिल्ली में अपने अपने क्षेत्र की अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित कराने के लिए केन्द्र सरकार के पास प्रस्ताव भेज रहे थे, जिस पर कार्यवाई करते हुये केन्द्र ने दिल्ली सरकार को कई पत्र लिखे लेकिन हर बार समय मांग कर इन कॉलोनियों को नियमित करने में सबसे बड़ी बाधा दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने पहुंचाई।
प्रदेश महामंत्री रविन्द्र गुप्ता ने कहा कि अनधिकृत होने का जो ठप्पा इन कॉलोनियों पर लगा था वह सबसे दुर्भाग्यपूर्ण था। सीलिंग की तलवार अनधिकृत कॉलोनियों में रह रहे 40 लाख से अधिक लोगों के सिर पर मंडराती रहती थी। भय की स्थिति में जीने को मजबूर जनता यह समझ चुकी थी कि हमारे क्षेत्र में विकास कार्य का होना बहुत ही मुश्किल है। सड़के, नालियां, सीवर, समुदायिक केन्द्र, कूड़ा घर एवं स्कूल से वंचित यह अनधिकृत कॉलोनियां शहर में रह कर भी गांव- देहात जैसा जीवन जीने को मजबूर थी। मोदी जी ने उनकी पीड़ा को सुना-समझा व 2014 के बाद से ही इन अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने का काम शुरू कर दिया। दिल्ली की जनता के हितों को ध्यान में रखकर केन्द्र सरकार का यह कदम ऐतिहासिक है जो दिल्ली में विकास के नये आयाम लायेगा। आम आदमी पार्टी की नकारात्मक राजनीति को जनता पहले निगम और लोकसभा में नकार चुकी है और अब वो इनके झूठे वादों में फंसने वाली नहीं है। जनता समझ चुकी है कि दिल्ली का विकास मोदी जी के साथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »