बर्थ सर्टिफिकेट पर ऑनलाइन खुद जोड़ सकेंगे बच्चे का नाम

cumulatively vai e volta namoro नई दिल्ली । जन्म के सालों बाद प्रमाण-पत्र में नाम दर्ज कराने के लिए एमसीडी ऑफिस का चक्कर काटने की जरूरत नहीं होगी। साउथ एमसीडी योजना बना रही है कि घर बैठे ही कोई खुद से ही जन्म प्रमाण-पत्र में नाम दर्ज कर ले। इसकी अतिरिक्त कॉपी के लिए प्रति कॉपी 10 रुपये फीस देनी पड़ती है, जिसे माफ करने पर विचार किया जा रहा है। इसके अलावा, दिल्ली में जन्मे सभी बच्चों के प्रमाण-पत्र को आधार से लिंक किया जाएगा। मगर, इसके लिए एमसीडी एक्ट में बदलाव करना होगा। एमसीडी ने रजिस्ट्रार जनरल ऑफ इंडिया को पत्र लिखा है।
साउथ एमसीडी हेल्थ विभाग के एक सीनियर अफसर के अनुसार, दिल्ली में जन्म के तुरंत बाद जो जन्म प्रमाण-पत्र मिलता है, उसमें बच्चों के नाम नहीं होते। 6 महीने या साल भर के बाद बच्चों के नामकरण के बाद या फिर स्कूल में एडमिशन के वक्त लोग जन्म प्रमाण-पत्र में नाम चढ़वाने के लिए एमसीडी दफ्तर जाते हैं। अगर कोई दिल्ली से बाहर चला जाता है, तो इस काम के लिए उसे दिल्ली आना पड़ता है।
अगर कोई ऑनलाइन नाम चढ़वाने का आवेदन कर भी दे, तो 10 रुपये उसे मैनुअल जमा कराने के लिए जोनल ऑफिस के सिटिजन सर्विस ब्यूरो आना ही पड़ेगा। इससे लोगों को परेशानी होती है। लोग अपने आप ही जन्म प्रमाण-पत्र में ऑनलाइन नाम चढ़वा लें, इसके लिए एमसीडी व्यवस्था करेगी। इस संबंध में मंगलवार को एमसीडी कमिश्नर ने भी पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के सभी अफसरों की मीटिंग बुलाई थी। जन्म प्रमाण-पत्र को आधार से लिंक करने की भी योजना है। इससे जन्म और मृत्यु दर को नियंत्रित करने और डेटा बैंक बनाने में आसानी होगी। गुड़गांव में जन्म प्रमाण-पत्र को आधार से लिंक किया जा रहा है।

Leave a Reply

Thiès Nones speed dating norway mosjøen Your email address will not be published. Required fields are marked *

https://ileomiojuaro.com.br/4900-dpt71871-namoro-depois-dos-50.html

Translate »