जन-जीवन अस्त व्यस्त करने के लिए भाजपा व आप पार्टी जिम्मेदार : सुभाष चोपड़ा

नई दिल्ली।दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री सुभाष चोपड़ा ने कहा है कि केन्द्र की भाजपा सरकार व केजरीवाल सरकार ने अपने राजनैतिक हित साधने के लिए एक सुनियोजित षडयंत्र के तहत दिल्ली के युवाओं के भविष्य को अंधकारमय करने के साथ-साथ पूरी दिल्ली को हिंसा की आग में झोंकने का घिनोना प्रयास किया है, जिससे आज दिल्ली की जनता न केवल आहत है बल्कि अपने आपको ठगा हुआ महसूस कर रही है। श्री चोपड़ा आज पार्टी कार्यालय में आयोजित ब्लाक व जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्षों की सभा में बोल रहे थे। बैठक को श्री चोपड़ा के अलावा अभियान समिति के चैयरमेन श्री कीर्ति आजाद, मुख्य प्रवक्ता व वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा और राजेश लिलौठिया ने भी सम्बोधित किया।
चोपड़ा ने इस मौके पर कहा कि दिल्ली में आज कर्फ्यू जैसे हालात है, दिल्ली की आम जनता भयभीत है और लोग अपने दफ्तरों से न घर पहुॅच पा रहे है और न ही रोजमर्रा के काम कर पा रहें है। उन्होंने कहा कि 30 से ज्यादा मेट्रो स्टेशन बंद होने और दिल्ली में जगह-2 ट्रेफिक जाम होने व धारा 144 लगने से अफरा-तफरी का माहौल है। उन्होंने यह भी कहा कि आज दिल्ली के इन हालातों के लिए भाजपा व आप पार्टी की नूरा-कुश्ती पूरी तरह जिम्मेदार है। श्री चोपड़ा ने सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वो दिल्ली में शांति स्थापित करने के लिए हर संभव प्रयास करे, साथ ही उन्होंने पीड़ित लोगों की मदद करने का भी कार्यकर्ताओं से आग्रह किया।
श्री चोपड़ा ने कहा कि बाबा साहेब डा0 भीमराव अम्बेडकर द्वारा बनाए गए संविधान के खिलाफ बनाऐ गए नागरिक संशोधन विधेयक के चलते देश में सरकार ने शांति व सौहार्द को न केवल नुकसान पहुॅचाया है बल्कि आज कानून का शासन कहीं नजर नही आ रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि संविधान की रक्षा करना तो अलग बात है भाजपा सरकार ने संविधान को मानने वालों पर ही हमला बोल दिया है।
राजेश लिलौठिया व श्री कीर्ति आजाद ने कहा कि सरकार में बैठे लोग जो स्वयं हिंसा करवाऐ, संविधान पर आक्रमण करें, देश के युवाओं को बेरहमी से पिटवाऐ व कानूनी की धज्जियां उड़वाऐंगे तो देश और दिल्ली का शासन कैसे चलेगा यह समझ से परे है। उन्होंने आज दिल्ली में जो कुछ भी घटनाऐं घटी है व गिरफतारियां हुई है उनकी कड़ी निंदा करते हुए सभी गिरफतार आंदोलनकारियों को रिहा करने की मांग की है।
प्रदेश कांग्रेस ने मुख्य प्रवक्ता श्री मुकेश शर्मा द्वारा रखे गए एक प्रस्ताव को भी सर्वसम्मति से पारित किया। ‘‘प्रस्ताव में राजधानी में जनजीवन को अस्त-व्यस्त करने व दिल्ली को हिंसा के हवाले करने के लिए जिम्मेदार भाजपा व आप पार्टी की निंदा की गई, साथ ही पुलिस द्वारा आंदोलन को दबाने के लिए किए जा रहे बल प्रयोग पर आपति दर्ज करते हुए मांग की गई है कि सभी आंदोलनकारी छात्रों को तुरंत प्रभाव से रिहा किया जाए’’। श्री मुकेश शर्मा ने कहा कि दिल्ली में कांग्रेस पूरी शक्ति के साथ साम्प्रदायिक ताकतों का मुकाबला करेगी और हर कीमत पर धर्म निरपेक्षता की रक्षा की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »