गरीबों को मकान का किराया न देने पर केजरीवाल सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल की अध्यक्षता में आज मुख्यमंत्री आवास के बाहर भाजपा कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल के उस वायदें को पूरा न करने के खिलाफ प्रदर्शन किया जिसमें कोरोना काल के दौरान गरीबों और मजदूरों के मकान किराया देने का वायदा किया गया था। आज हज़ारों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने चंदगी राम अखाड़े से लेकर मुख्यमंत्री आवास तक विरोध प्रदर्शन में केजरीवाल सरकार के खिलाफ नारे लगाए।

कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि हर वायदों की तरह एक बार फिर केजरीवाल ने अपने वायदों को पूरा नहीं किया। कोरोना महामारी के दौरान उन्होंने उन सभी गरीब मजदूरों से वायदा किया था कि उनके मकान का किराया दिल्ली सरकार वहन करेगी और जब देने की बारी आई तो सरकार ने यू-टर्न ले लिया। उन्होंने कहा कि इस वादा को पूरा न करके केजरीवाल सरकार ने सिर्फ उन गरीब मजदूरों को धोखा ही नहीं दिया बल्कि उनके विश्वास और आशा को भी तोड़ा है। विरोध प्रदर्शन में प्रदेश भाजपा मीडिया प्रमुख श्री नवीन कुमार जिंदल, युवा मोर्चा के अध्यक्ष श्री वासु रुखड़, महिला मोर्चा की अध्यक्षा श्रीमती योगिता सिंह एवं अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष श्री भूपेन्द्र गोठवाल एवं पूर्वांचल मोर्चा अध्यक्ष श्री कौशल मिश्रा सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि कोर्ट ने खुद केजरीवाल सरकार से सवाल किया है कि क्या वह किश्तों में भुगतान करने को तैयार है? लेकिन इस पर दिल्ली सरकार के वकील ने साफ शब्दों में कहा कि केजरीवाल सरकार के शब्दों में ‘वादा(Promise)’ शब्द कभी नहीं था। दिल्ली के लोगों को किराए देने का कोई वादा नहीं किया था। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी साजिश और झूठे वायदें इससे पहले किसी भी सरकार ने नहीं किया। झूठें वायदों और विज्ञापन पर चलने वाली दिल्ली सरकार सिर्फ लोगों को गुमराह करती है चाहे वह दूसरे राज्यों में किए जा रहे चुनावी वायदें हो या फिर दिल्ली के लोगों को मुफ्त योजनाओं के नाम पर राजनीति करना हो।

 

Translate »