निगम के तीनों महापौर सहित 22 नेता अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर

नई दिल्ली।  निगम के बकाया 13000 करोड़ रुपए के फंड  की मांग को लेकर मुख्यमंत्री आवास के बाहर धरने पर बैठे निगम के तीनों महापौर सहित 22 निगम नेता अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर चले गए हैं। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे इन निगम नेताओं को तिलक लगाकर उनको प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि निगम कर्मियों और दिल्ली वासियों के हक की लड़ाई को हम जरूर जीतेंगे। दिल्ली भाजपा महामंत्री हर्ष मल्होत्रा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री आवास के बाहर निगम नेताओं का धरना आज 11वें दिन भी जारी रहा। इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव बब्बर, प्रदेश कोषाध्यक्ष विष्णु मित्तल, प्रदेश मीडिया प्रमुख नवीन कुमार, प्रदेश प्रवक्ता ऋचा पांडे मिश्रा एवं शाहदरा जिला सह प्रभारी अरविंद गर्ग उपस्थित थे।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि आज सारे दिल्लीवासी भी आश्चर्य में है कि मुख्यमंत्री होकर अरविंद केजरीवाल इतने संवेदनहीन कैसे हो सकते हैं। एक ओर  जहाँ निगम नेता खुले आसमान के नीचे ठंड और बारिश में मुख्यमंत्री आवास के बाहर बैठे हैं वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री अपने कमरे में हीटर लगाकर आराम फरमा रहे हैं। नगर निगम के महापौर और नेता निगम के डॉक्टर, नर्स स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, शिक्षकों और दिल्ली वासियों के हक के लिए संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन मुख्यमंत्री केजरीवाल का लगता  है आम लोगों की समस्या से कोई सरोकार नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कौरवों की भांति अहंकार में डूबे हैं।  जिस तरह कौरवों का झूठ के बल पर हासिल किया गया राजपाट नष्ट हो गया था उसी तरह केजरीवाल का मद भी चूर जरूर होगा।
आदेश गुप्ता ने कुछ पंक्तियों के माध्यम से मुख्यमंत्री केजरीवाल पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि अराजकता फैला कर बंद हमारी क्या आवाज कराओगे, लंपट लुटेरों से दिल्ली की सत्ता पर राज करवाओगे, क्या अब निगम का सारा फंड रोककर विज्ञापन छपवाओगे। आप (आम आदमी पार्टी) विज्ञापन पर सारा पैसा लुटा देंगे, कुर्सी की खातिर अपने आदर्शों को हटा देंगे, धरना किंग को अगर यह धरना ना दिखा तो, अगले चुनाव में तुम्हें जड़ से मिटा देंगे।
नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि पिछले 6 वर्षों से दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है जो सिर्फ और सिर्फ झूठे वादों और प्रचारों से ही चलती है। आज दिल्लीवासी भी इस बात से भलीभांति अवगत है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल उन्हें सुविधाएं देने में असफल हुए हैं और अब निगम का फंड रोककर, निगम द्वारा मिल रही सुविधाओं से भी वंचित रखना चाहते हैं। दिल्ली भाजपा ने इस मामले को गंभीरता से उठाया और संघर्ष का रास्ता तैयार किया है। मेरी यही कामना है निगम कर्मचारियों के हक में संवैधानिक मांग को लेकर जो अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे निगम नेताओं उनकी मंशा पूरी हो।
अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम महापौर जयप्रकाश, पूर्वी दिल्ली नगर निगम महापौर निर्मल जैन, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम महापौर अनामिका मिथिलेश सिंह सहित उत्तरी दिल्ली नगर निगम स्थाई समिति अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी, उपाध्यक्ष विजेंद्र यादव, पूर्वी दिल्ली नगर निगम उपमहापौर हरि प्रकाश बहादुर, स्थाई समिति अध्यक्ष सतपाल सिंह, नेता सदन प्रवेश शर्मा, दक्षिणी दिल्ली स्थाई समिति अध्यक्ष राजदत्त गहलोट, नेता सदन नरेंद्र चावला, पूर्व महापौर कमलजीत सहरावतसुनीता कांगड़ा, माया सिंह बिष्ट, पूनम भाटी, सुमन डागर, सुषमा गोदरा, सविता, अंजू अमन कुमार, हिमांशी पांडे, कंचन महेश्वरी, अपर्णा गोयल और कुसुम तोमर बैठी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »