कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन के इस्तीफे की मांग की

https://cederart.se/2895-dse44145-dejt-stugun.html नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली की सभी 70 विधानसभाओं के फ्लाई ओवरों के दोनो ओर होर्डिग लगाकर दिल्ली में कोविड महामारी से चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए जिम्मेदार दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन से इस्तीफे की मांग की। चौ. अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली सरकार आंकड़े छुपाकर लीपापोती में लगी है लेकिन कोविड-19 से हो रही मौतों के आंकड़े दिल्ली सरकार की पोल खो रहे है और सच सब के सामने आ रहे है और अभी तक दिल्ली में कोविड से मरने वालों की संख्या 9300 से अधिक है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा कोविड पर नियंत्रण न करने का खामियाजा आज दिल्ली की जनता भुगत रही है।

https://www.crypto-facile.fr/2840-csfr62770-priere-pour-gagner-au-jeu.html विरोध प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार आईटीओ फ्लाईओवर पर किए जाने वाले विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने होर्डिंग बैनरों के साथ कांग्रेस पार्टी के झंडे भी लिए हुए। विरोध प्रदर्शन में चौ. अनिल कुमार के साथ जिला अध्यक्ष मौहम्मद उस्मान, परवेज आलम, राजकुमार इंदौरिया, महिला जिला अध्यक्ष कमलेश चौधरी और सेवादल के योगेश जैन भी मुख्य रुप से शामिल थे।

cringingly euromillion secrets du jeu चौ. अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली देश ही नही दुनिया में सबसे अधिक संक्रमित शहर बन गई है और नवम्बर महीने से अब तक के आंकड़ों के अनुसार कोरोना से होने वाली मृत्यु दर में 136 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और देश में प्रति 5 कोविड संक्रमितों में से एक मृत्यु दिल्ली के मरीज की हो रही है और राजधानी में यह मृत्यु दर देश के मुकाबले 4 गुणा अधिक है। चौ. अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली में प्रतिदिन सामने आ रहे कोविड के भयावह आंकडे अरविन्द सरकार की नाकामी और प्रशासनिक अक्षमता को उजागर करते है।

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि राजधानी में कोविड आपालकाल की भयावह स्थिति के कारण प्रति 10 मिनट में औसतन एक व्यक्ति की मृत्यु हो रही है। अरविन्द सरकार कोविड नियंत्रण को लेकर दिल्ली में पूरी तरह से विफल हो गई है, स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन को इसकी जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। सरकार द्वारा घोषित मृत्यु के आंकड़ों और निगम द्वारा कोविड प्रोटोकोल से हुए अंतिम संस्कार के आंकड़ो में भी भारी विरोधाभास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »